2021 तक देश का ई कॉमर्स बाजार 84 अरब डॉलर होगा: रिपोर्ट

नई दिल्ली : देश में ई-कॉमर्स क्षेत्र का विस्तार तेजी से हो रहा है. 2021 तक इसका आकार 84 अरब डॉलर होने की उम्मीद है. वर्ष 2017 में यह 24 अरब डॉलर रहा था. डेलॉयट इंडिया और रिटेल एसोसिएशन ऑफ इंडिया के रिपोर्ट के मुताबिक तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था, इन्टरनेट की उपलब्धता और जनांकिक समृद्धता के चलते देश का उपभोक्ता कारोबार विकसित हो रहा है.

रिपोर्ट के मुताबिक आने वाले समय में देश का खुदरा बाजार  ई कॉमर्स क्षेत्र में बड़ा योगदान देगा. यह भारत को एशिया में तीसरा और दुनिया में चौथा सबसे बड़ा खुदरा बाजार बनाने में मदद करेगा. भारत में खुदरा बाजार के 2021 तक बढ़कर 1,200 अरब डॉलर होने की संभावना है जो 2017 में 795 अरब डॉलर था. रिपोर्ट के मुताबिक देश में इंटरनेट की पहुंच बढ़ी है और बहुत सी अंतरराष्ट्रीय खुदरा कंपनियों ने भारत में अपना परिचालन शुरू किया है. 2017 में देश के खुदरा बाजार में संगठित खुदरा बाजार की हिस्सेदारी 12 प्रतिशत थी. 2021 तक इसके 22-25 प्रतिशत होने की उम्मीद है.

रिपोर्ट में कहा गया है कि 2021 तक देश में ई-वाणिज्य क्षेत्र का आकार बढ़कर 84 अरब डॉलर हो जाएगा जो 2017 में 24 अरब डॉलर था. यह सभी जानकारी ‘अनरैवलिंग द इंडियन कंज्यूमर’ रिपोर्टॉ में दी गई है. डेलॉइट इंडिया में सहायक अनिल तलरेजा ने कहा कि जहां तक भारतीय बाजार की क्षमता की बात है यह मजबूत बनी रहेगी और यह दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा उपभोक्ता बाजार बनने की राह पर है. 2021 तक इसके 1,200 अरब डॉलर का हो जाने की उम्मीद है.

शेयर करें

मुख्य समाचार

lucknow

लखनऊ विश्वविद्यालय में ‘सीएए’ बतौर विषय पढ़ाने की तैयारी

लखनऊ : नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के समर्थन में जनसभाओं और विरोध में हो रहे प्रदर्शनों के बीच लखनऊ विश्वविद्यालय (एलयू) अपने छात्रों को सीएए आगे पढ़ें »

imf

भारतीय अर्थव्यवस्‍था की सुस्ती है अस्‍थायी, जल्द हो सकता है सुधार : आईएमएफ

नई दिल्ली : अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष (आईएमएफ) की प्रमुख क्रिस्टालिना जियॉर्जिवा ने भारतीय अर्थव्यवस्‍था में आई सुस्ती को अस्‍थायी बताया है। दावोस में आयोजित विश्व आर्थिक आगे पढ़ें »

ऊपर