बच्चों को भी अपने स्वास्थ बीमा में कर सकते हैं शामिल, जानिए प्रक्रिया

नई दिल्ली : लोग नौकरी शुरू करते ही स्वास्थ बीमा ले लेते हैं, लेकिन जब परिवार बढ़ता है, बच्चे होते हैं तो बच्चों के लिए अलग से हेल्थ इंश्योरेंस प्लान लेना पड़ता है। दूसरा तरीका यह है कि वे अपनी हेल्थ पॉलिसी को खत्म करके नई पॉलिसी लें, जिसमें उनके बच्चे भी शामिल हो। हालाँकि यह दोनों ही काम सही नहीं हैं, यह आपको महंगे पड़ सकते हैं। आप अपनी हेल्थ बीमा पॉलिसी में ही बच्चों को जोड़ सकते हैं। बहुत से लोगों को पता नहीं होता कि कैसे इस सुविधा का लाभ लेना है।

हेल्थ पॉलिसी में ये बदलाव करें
अपनी इंडीविजुअल हेल्थ पॉलिसी में बच्चों को शामिल करने के लिए इसमें कुछ बदलाव करने होंगे। सबसे पहले आप अपनी हेल्थ पॉलिसी में फैमिली फ्लोटर प्लान में बदलवाएं। इसके बाद उसमें अपने बच्चों को शामिल करें। इस फैमिली फ्लोटर प्लान में आपके साथ बच्चों को कवर करेगा। ऐसा करना नई हेल्थ पॉलिसी खरीदने से सस्ता पड़ता है, हालाँकि देख ले कि कंपनी किस उम्र तक के बच्चे को इसमें शामिल करती है।

कवर भी बढ़ाया जा सकता है
अगर आपको लगता है कि आपके साथ बच्चों के जुड़ने के बाद हेल्थ पॉलिसी में लिया गया कवर कम होगा तो आप इसे भी बढ़ा सकते हैं। बीमा कवर उसे कहा जाता है जो पैसा बीमा कंपनी आपके या बच्चे के बीमार होने पर इलाज के लिए अधिकतम पैसा देती है, लेकिन ऐसा करने पर प्रीमियम बढ़ जाता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

madhav

राम माधव ने अमेरिका को दी नसीहत, कहा- भारत कोई डंपिंग बाजार नहीं

नई दिल्ली : भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के महासचिव राम माधव ने सोमवार को अमेरिका की पूर्व विदेश मंत्री कोंडोलिजा राइस के दिए गए बयान आगे पढ़ें »

P Chidambaram

आईएनएक्स मामले में चिदंबरम को मिली जमानत, फिर भी नहीं हो पाएंगे रिहा

नई दिल्ली : आईएनएक्स मीडिया मामले में मंगलवार को पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस नेता पी चिदंबरम को उच्चतम न्यायालय ने जमानत दे दी है। आगे पढ़ें »

ऊपर