कोरोना के कारण छात्रों के नुकसान को रोकने के लिए कैमस्कैनर ने नि:शुल्क प्रीमियम सब्सक्रिप्शन दिया

नई दिल्ली : कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए देश के कई स्कूलों ने इस जानलेवा वायरस से बचने के लिए छात्रों को घर पर ही रहने का निर्देश जारी किया है। छात्रों और शिक्षकों की मदद करने के मकसद से अग्रणी स्कैनिंग ऐप कैमस्कैनर ने घोषणा की है कि वह 30 जून 2020 तक सभी शिक्षाविदों और छात्रों को अपना प्रीमियम सब्सक्रिप्शन नि:शुल्क उपलब्ध कराएगी। इस नेक पहल से छात्र और शिक्षक इस ऐप की सभी प्रीमियम सेवाएं हासिल कर सकेंगे और फाइलों को वाटरमार्क के बगैर एचडी स्कैनिंग जैसी सुविधा भी ले सकेंगे, जो छात्रों को होमवर्क की स्कैनिंग और अपलोड करने में उपयोगी होगी जबकि शिक्षकों को बेहतर तरीके से होमवर्क की ग्रेडिंग करने में मदद मिलेगी। साथ ही लेक्चर नोट्स की डिजिटलीकरण प्रक्रिया से छात्र मंगाए गए पीडीएफ के प्रत्येक पन्ने को एडिट कर सकेंगे और उन पर टिप्पणी लिख सकेंगे।

अपनी इस पेशकश की घोषणा करते हुए कैमस्कैनर के मार्केटिंग डायरेक्ट मिलर ने कहा, ‘कोविड—19 के कारण कई स्कूलों के कैंपस बंद हो चुके हैं और उनमें आॅनलाइन शिक्षा दी जा रही है। इसे देखते हुए हम शिक्षकों और छात्रों को अपना प्रीमियम सब्सक्रिप्शन नि:शुल्क प्राप्त करने की पेशकश कर रहे हैं। इस पेशकश से हम उन शिक्षार्थियों की मदद करना चाहते हैं जो दूरवर्ती शिक्षा के लिए साधन उपलब्ध कराते हुए अपने समाज में सुरक्षा और शिक्षा दोनों जारी रखने के लिए काम कर रहे हैं। हमारा लक्ष्य उन्हें इस विषम परिस्थिति में इस्तेमाल किए जा सकने वाले सभी फीचर्स से मदद करना है।’

प्रीमियम सब्सक्रिप्शन से यूजर्स 60 भाषाओं में ओसीआर अनुवाद, फाइल प्रबंधन, इलेक्ट्रॉनिक सिग्नेचर, एक्सेल रिकॉग्निशन, पेपर फार्म का फोटो लेकर इसे एक्सेल वर्जन में बदलना, बुक स्कैन आदि जैसे फीचर्स का लाभ उठा सकेंगे। कैमस्कैनर विश्व के लोगों, छोटे कारोबारियों, संगठनों, सरकारों तथा स्कूलों के लिए सबसे लोकप्रिय डॉक्यूमेंट प्रबंधन समाधान है और भारतीय बाजार में इसके 10 से अधिक यूजर्स हो गए हैं जबकि भारत के शिक्षा क्षेत्र में इसका व्यापक इस्तेमाल किया जाता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

शेयर मार्केट को लॉकडाउन अपडेट्स का इंतजार, निफ्टी- सेंसेक्स में 0.5% की गिरावट

नई दिल्ली : बुधवार के कारोबार के दौरान निफ्टी और सेंसेक्स में उतार-चढ़ाव देखा गया और 0.5% की गिरावट के साथ बंद हुआ।  एंजिल ब्रोकिंग आगे पढ़ें »

income tax office

आयकर 5 लाख रुपये तक के सभी लंबित आयकर रिफंड तत्काल जारी करेगा, 14 लाख करदाताओं को होगा फायदा

नई दिल्ली : कोरोना आपदा के मद्देनजर केंद्र सरकार ने आज कुछ बड़े राहत पैकेजो का ऐलान किया है। वित्त मंत्रालय ने एक प्रेस विज्ञप्ति आगे पढ़ें »

ऊपर