किसानों की आय डबलिंग के लिए हर कोशिश कर रही है सरकार : मोदी

नई दिल्ली : रविवार को आयोजित किसान सम्मान निधि योजना के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि देश के करोड़ों किसानों को सालाना 6 हजार रुपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी। किसानों को हर वो संसाधन दिए जाएं, जिससे वे अपनी आमदनी को दोगुना कर सकें। उन्होंने कहा कि वर्तमान में केंद्र सरकार जितना पैसा किसान के लिए भेजती है, वह पूरा पैसा उसके खाते में पहुंचता है। अब वो दिन गए जब सरकार 100 पैसा भेजती थी, तो बीच में 85 पैसा दलाल और बिचौलिए खा जाते थे।

प्रधानमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना को भी फूलप्रूफ बनाया गया है, जिससे किसान का अधिकार कोई छीन न सके। उन्होंने कहा कि पीएम किसान सम्मान निधि के रूप में जो पैसे किसानों को दिए जाएंगे उनकी पाई-पाई केंद्र में बैठी सरकार की तरफ से दी जाएगी। राज्य सरकारों की इसमें कोई भूमिका नहीं होगी। बस राज्य सरकारों को किसानों की सूची बनाकर देना है। जो राज्य अपने किसानों की सूची हमें नहीं देंगे, उन्हें मैं कहना चाहता हूं कि वहां के किसानों की बद्दुआएं आपके राजनीतिक करियर को बर्बाद करके रख देंगी। उन्होंने कहा कि हमने देश भर की 99 ऐसी परियोजनाएं चुनीं थीं जिनमें से 70 से ज्यादा अब पूरी होने की स्थिति में आ रही हैं। इन परियोजनाओं की वजह से किसानों को लाखों हेक्टेयर जमीन पर सिंचाई की सुविधा मिल रही है। इससे किसानों की आने वाली कई पीढिय़ों तक को लाभ मिलेगा। साथ ही मोदी ने कहा कि सिंचाई परियोजनाओं को पूरा न करके कर्जमाफी करना आसान रास्ता था, लेकिन कर्जमाफी से सिर्फ ऊपरी स्तर के कुछ किसानों को ही फायदा होता। ऐसे किसानों को फायदा होता, जिन्होंने बैंक से कर्ज लिया है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार ने न्यूनतम समर्थन मूल्य पर किसानों की बरसों पुरानी मांग को पूरा किया। रबी और खरीफ की 22 फसलों का समर्थन मूल्य लागत के 50 प्रतिशत से अधिक तय किया गया है। मौसम की मार से किसानों को बचाने के लिए प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना भी बनाई गई है। किसानों को उपज का उचित मूल्य मिले, इसके लिए अनेक प्रयास किए जा रहे हैं। ई-एनएएम प्लेटफॉर्म से देशभर की सैकड़ों मंडियां जुड़ चुकी हैं और जोड़ी जा रही हैं। इससे किसानों को सीधे देशभर की किसी भी मंडी में ऑनलाइन अपनी उपज बेचने का विकल्प मिलेगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

चीन और डब्ल्यूएचओ के खिलाफ अमेरिका का बड़ा एक्शन

वाशिंगटन :  अमेरिका ने डब्ल्यूएचओ और चीन के खिलाफ बड़ा एक्शन लेते हुए जहां डब्ल्यूएचओ से संबंध खत्म कर रहा है वहीं चीनी छात्रों को आगे पढ़ें »

अम्फान रिलीफ फंड : आर्थिक सहायता व रिकंस्ट्रक्शन के लिए 6250 करोड़ रु.

अम्फान से मरने वालों की संख्या हुई 98 सबिता राय, कोलकाता : अम्फान चक्रवात के प्रभावित लोगों के लिए आर्थिक सहायता तथा रीकंस्ट्रकशन कार्य के लिए आगे पढ़ें »

ऊपर