मोदी सरकार शुरू करेगी अमेजन-फ्लिपकार्ट जैसा ऑनलाइन प्लेटफॉर्म

नई दिल्ली : मोदी सरकार जल्द ही अलीबाबा और अमेजन की तरह ही ई-कॉमर्स मार्केटिंग प्लेटफार्म ‘भारतक्राफ्ट’ पोर्टल पेश करेगी। इस प्लेटफार्म से 2-3 साल में करीब 10 लाख करोड़ रुपये का कारोबार का लक्ष्य रखा जाएगा। यह जानकारी केंद्रीय एमएसएमई मंत्री नितिन गडकरी ने नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के ‘इमर्ज’ प्लेटफार्म पर 200वीं एमएसएमई कंपनी ‘वंडर फाइबरोमेट्स’ के लिस्टेड होने के मौके पर दी, गडकरी ने कहा कि भारतक्राफ्ट पोर्टल एमएसएमई कंपनियों को बाजार उपलब्ध कराएगा और उनके प्रोडक्ट बेचने में मदद करेगा।

गडकरी ने कहा कि हम एमएसएमई सेक्टर को बढ़ावा देना चाहते हैं। यह सेक्टर इस समय मैन्युफैक्चरिंग में करीब 29 प्रतिशत और निर्यात में 40 प्रतिशत का योगदान करता है। एमएसएमई सेक्टर में अगले 5 साल के दौरान 5 करोड़ अतिरिक्त रोजगार देने की क्षमता है। सरकार ने अगले 5 साल के दौरान मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में एमएसएमई के योगदान को 50 प्रतिशत तक बढ़ाने का लक्ष्य रखा है। साथ ही उन्होंने इस मौके पर कहा कि एमएसएमई के लिए पेमेंट हमेशा से एक समस्या रही है, क्योंकि सरकार और पब्लिक सेक्टर की कंपनियों छोटी एवं मझोली कंपनियों का बकाया चुकाने में देरी करती हैं।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि इसे अध्ययन करने के लिए एक समिति गठित की गई है और जल्द ही रिपोर्ट आ जाएगी। सरकार एमएसएमई क्षेत्र के भुगतान में तेजी लाने के लिए कानूनी ढांचा बनाने पर विचार कर रही है। बिलों के भुगतान में देरी होने पर कानूनी कार्रवाई का सामना करना होगा। नितिन गडकरी ने कहा कि सरकार एमएसएमई को एक्सपोर्ट और इकोनॉमिक ग्रोथ में योगदान बढ़ाने और रोजगार देने के लिए बढ़ावा देगी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

liquor

वैशाली में देसी शराब की 40 भट्ठी ध्वस्त, अंग्रेजी शराब बरामद

हाजीपुर : बिहार में वैशाली जिले के अलग-अलग थाना क्षेत्र में पुलिस ने छापामारी कर देसी शराब की 40 भट्ठियों को नष्ट करने के साथ आगे पढ़ें »

बिहार में 6437 चिकित्सकों की बहाली 31 मार्च तक हो जाएगी : मंगल पांडेय

पटना : बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने राज्य में चिकित्सकों की कमी को स्वीकार करते हुए शुक्रवार को विधानसभा में आश्वस्त किया कि आगे पढ़ें »

ऊपर