किसानों की सुध भर ली है, खास राहत देने वाला नहीं है कृषि बजट: कृषि विशेषज्ञ

नई दिल्ली :  कार्यवाहक वित्तमंत्री पीयूष गोयल ने शुक्रवार को अंतरिम बजट पेश किया। इस बजट को किसान हितैषी बजट बताया जा रहा है, लेकिन इस बारे में कृषि विशेषज्ञ देविंदर शर्मा का मानना है कि सरकार ने किसानों की सिर्फ सुध भर ली है और एक अच्छी शुरुआत की है, लेकिन बजट में की गई घोषणा से किसानों को बहुत फायदा नहीं हुआ है। देश के कृषि क्षेत्र में अभी बहुत सुधार कि जरूरत है। कृषि क्षेत्र उपेक्षित है और देश का किसान अभी भी हासिए पर है।

बजट: विशषज्ञों ने कहा, आयकर में छुट नहीं रियायत दी गई है

उन्होंने कहा कि किसान आय सहयोग की राशि कम से कम 12,000 रुपये सालाना होनी चाहिए। गोयल ने शुक्रवार को वित्त वर्ष 2019-20 के लिए अंतरिम बजट पेश करते हुए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि कार्यक्रम की घोषणा की। इसके तहत दो हेक्टेयर तक की जोत वाले किसानों को सरकार एक निश्चित आय का सहयोग प्रदान करने के लिए सालाना 6,000 रुपये उनके खाते में सीधे हस्तांतरित करेगी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

गुजरात में भूपेंद्र पटेल ही बनेंगे मुख्यमंत्री

गुजरात : गुजरात विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी की प्रचंड जीत के बाद भूपेंद्र पटेल ही गुजरात के मुख्यमंत्री बनेंगे। गुजरात भाजपा अध्यक्ष CR आगे पढ़ें »

चिंगड़ीहाटा में बेपरवाह कार ने आठ लोगों को मारी टक्कर

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : विधाननगर दक्षिण थानांतर्गत चिंगड़ीहाटा मोड़ पर एक बेपरवाह कार की टक्कर लगने से एक सिविक वॉलेंटियर सहित 8 लोग गंभीर रूप से आगे पढ़ें »

ऊपर