इन बैंकों ने दी ग्राहकों को बड़ी राहत, ब्याज दरों में की 0.75 तक की कटौती

नई दिल्ली : आरबीआई द्वारा रेपो रेट में 0.75 फीसद की कटौती किए जाने के बाद पंजाब नेशनल बैंक और इंडियन ओवरसीज बैंक ने रेपो रेट से जुड़ी अपनी ब्याज दरें 0.75 फीसद तक कम कर दी हैं। सार्वजनिक क्षेत्र के ज्यादातर बैंकों ने रेपो रेट घटाए जाने का लाभ अपने ग्राहकों को दिया है।

पीएनबी ने कहा है कि आरबीआई द्वारा नीतिगत दर में कटौती का पूरा लाभ हम अपने ग्राहकों को देंगे, जिनके ब्याज आरएलएलआर से जुड़े हैं। यह कटौती खुदरा और एमएसएमएई कर्जदाताओं के लिये है। वहीं इंडियन ओवरसीज बैक ने भी आरएलएलआर में 0.75 फीसद की कटौती की घोषणा की है, जिसके बाद नई आरएलएलआर एक अप्रैल से मौजूदा 8 फीसद से कम होकर 7.25 फीसद पर आ गई है। आईओबी ने कहा कि खुदरा कर्ज होम, एजुकेशन, ऑटो लोन की दर अब सस्ती होगी।

पीएनबी ने एमसीएलआर में 0.30 फीसद की और यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने 0.25 फीसद की कटौती की है। पीएनबी में ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया का आज यानी 1 अप्रैल से विलय हो रहा है।आईओबी ने भी एक साल के एमसीएलआर को 8.45 फीसद से घटाकर 8.25 फीसद कर दिया है। नई दर 10 अप्रैल से प्रभावी होगी। नई दरें आंध्रा बैंक और कॉरपोरेशन बैंक के ग्राहकों पर भी लागू होगी, जिनका विलय आज यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में हुआ है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

टॉस विवाद पर बोले संगकारा- मैं जीता था लेकिन धोनी आवाज नहीं सुन पाए तो दोबारा सिक्का उछाला गया

नयी दिल्‍ली : भारत-श्रीलंका के बीच 2011 वर्ल्ड कप फाइनल में दोबारा टॉस कराने के मामले में अब जाकर श्रीलंका के पूर्व कप्तान कुमार संगकारा आगे पढ़ें »

ईसीबी ने 55 खिलाड़ियों को अभ्यास शुरू करने को कहा

लंदन : विश्व कप विजेता कप्तान इयोन मोर्गन और टेस्ट टीम के कप्तान जो रुट के अलावा इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने 55 आगे पढ़ें »

ऊपर