5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था के लिए इस क्षेत्र को प्राथमिकता देगी सरकार

नई दिल्ली : 73वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर देश को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत को अगले 5 सालों में 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था वाला देश बनाने के लक्ष्य पर काम करने के लिए कहा है। उन्होंने कहा यह लक्ष्य बड़ा नहीं है और देश के हर आदमी को इसमें अपना योगदान देना होगा।

उन्होंने कहा कि ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत करके हम इस लक्ष्य को आसानी से हासिल कर सकते हैं। आज कारोबार करने के लिए पूरी दुनिया हमसे जुड़ना चाहती है। हम महंगाई दर को कंट्रोल करके विकास दर को आगे बढ़ा रहे हैं और हमारी अर्थव्यवस्था का आधार बहुत मजबूत है। हम देश में उत्पादन बढ़ाना चाहते हैं और प्राकृतिक संपदा की प्रोसेसिंग करना चाहते हैं। हिंदुस्तान के हर जिले से एक्सपोर्ट करना चाहते हैं, अगर हम इस ध्येय को लेकर काम करें तो निश्चित ही ग्लोबल मार्केट में हिंदुस्तान का डंका बजेगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि ‘मेक इन इंडिया’ का जो मिशन हमने लिया है उसे आगे बढ़ाना चाहिए और इस मिशन को पूरा करने के लिए ‘मेड इन इंडिया’ पर जोर देना होगा। देश का हर आदमी देश में बनने वाले सामान को ही खरीदे, तभी यह मिशन कामयाब होगा। उन्होंने ग्रामीण अर्थव्यस्था को बढ़ावा देने के लिए ‘लकी कल के लिए लोकल’ का नारा देते हुए कहा कि गांव में जो बनता है, पहले उसे खरीदो, गांव में जो न मिले तो तहसील स्तर के सामान को खरीदो, फिर जिला और राज्य स्तर पर जाना चाहिए। इससे ग्रामीण अर्थव्यवस्था को बल मिलेगा। हमें अच्छे कल के लिए लोकल प्रोडेक्ट पर ध्यान देना होगा।

साथ ही उन्होंने कहा कि हर वेल्थ क्रियेटर को सम्मान मिलना चाहिए, क्योंकि अगर वेल्थ क्रियेट नहीं होगी तो वेल्थ डिस्ट्रीब्यूशन नहीं होगा और वेल्थ डिस्ट्रीब्यूशन नहीं होगी तो गरीब आदमी आगे कैसे बढ़ेगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

आपके बेटे को कोई नुकसान नहीं पहुंचाऊंगा – बाबुल

देवाजंन की मां ने लगायी बाबुल से बेटे को माफ करने की गुहार कोलकाता : सोशल मीडिया पर उनके बेटे की पोस्ट वायरल हुई है जिसमें आगे पढ़ें »

राजीव कुमार की हो सकती है हत्या – सोमेन

कोलकाता : एक ओर जहां कोलकाता के पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार को सीबीआई दिन - रात ढूंढ रही है तो वहीं इस बीच, प्रदेश आगे पढ़ें »

ऊपर