2 साल में उबर लाएगी उड़ने वाली टैक्सी

नई दिल्‍लीः अमेरिका के शहरों में उड़ने वाली टैक्सी की संभावनाएं तलाशने के लिए कैब सेवा देने वाली कंपनी उबर और अंतरिक्ष एजेंसी नासा साथ मिलकर काम करेंगे। नासा ने कल कहा कि वह तथाकथित रूप से हवा में उड़ सकने में सक्षम वाहनों के प्रारूपों का परीक्षण शुरू करेगा। इन वाहनों में डिलिवरी ड्रोन भी शामिल होंगे। इस बात की घोषणा लॉस एंजिलिस में हुए उबर एलीवेट समि‍ट में की गई, जहां शहरी विमानन के भविष्य पर चर्चा करने के लिए तकनीक और परिवहन से जुड़े कई दिग्गज शामिल हुए थे। खस बात तो ये है कि हवा में उड़ने वाली टैक्सी का किराया भी सामान्य टैक्सी के जितना ही रखा जाएगा।
टैक्‍सी का प्रोटोटाइप भी पेश
आपको बता दें कि उबर ने इसी समिट में उड़ने वाली टैक्‍सी का प्रोटोटाइप भी पेश किया। उबर के अनुसार अगले 2 साल में वर्टिकल टेक-ऑफ और लैंडिंग (वीटीओएल) क्राफ्ट सेवा देना शुरू कर देंगे। नासा ने कहा कि इसका मकसद एक राइडशेयर या कारपूल नेटवर्क बनाना है जो निवासियों को एक छोटे से विमान में सफर करने की सुविधा देता है, ठीक उसी तरह जैसे अभी वह एक कार बुक करने के लिए ऐप का इस्तेमाल करते हैं।
होगा प्रारूपों का परीक्षण
अंतरिक्ष एजेंसी ने कहा कि डालास फोर्ट वर्थ इंटरनेशनल एयरपोर्ट में उसके अनुसंधान केंद्र पर प्रारूपों का परीक्षण किया जाएगा। उबर की योजना 2020 तक उड़ने वाली टैक्‍सी और अगले 5 से 10 साल में ऑटोमेटिक उड़ने वाली टैक्‍सी लाने की है। उबर की पेश किए गए प्रोटोटाइप में 4 लोगों की बैठने की जगह थी।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

सीएए और एनआरसी को लेकर मेयर ने बोला हमला

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : मेयर और मंत्री फिरहाद हकीम ने सीएए और एनआरसी को लेकर एक बार फिर केंद्र सरकार पर हमला बोला। रविवार को रक्तदान आगे पढ़ें »

ईस्ट वेस्ट मेट्रोः इस महीने शुरु होने की उम्मीदें बढ़ीं

नए जीएम ने मेट्रो परियोजना का किया निरीक्षण सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः साल्टलेक स्टेडियम से साल्टलेक सेक्टर-5 तक मेट्रो परियोजना के शुरू होने की उम्मीदें एक बार फिर आगे पढ़ें »

ऊपर