हाइवे सेक्टर के विकास के लिए 15 लाख करोड़ रुपये किए जाएंगे खर्च : गडकरी

Nitin Gadkari

नई दिल्ली : देश में विश्वस्तरीय इन्फ्रास्ट्रक्चर डेवलप करने का काम निर्बाध रूप से जारी रहेगा और अगले पांच साल में देश में हाइवे सेक्टर के विकास के लिए 15 लाख करोड़ रुपये खर्च किये जाएंगे। यह बात केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कही। गडकरी ने कहा कि ‘फंड की समस्या नहीं आयेगी।’ पिछले पांच साल में हाइवे और शिपिंग सेक्टर में 17 लाख करोड़ रुपये का निवेश हुआ है और अगले पांच साल में 22 ग्रीन एक्सप्रेसवे बनाए जाएंगे।

गडकरी ने जानकारी दी कि ई – टोलिंग सिस्टम के लागू होने से हर साल अकेले टोल से 8,000 करोड़ रुपये से अधिक की आय होगी। फस्टैग सिस्टम को अनिवार्य बनाए जाने के बाद से टोल इनकम में प्रतिदिन के हिसाब से 25 करोड़ रुपये की बढ़ोत्तरी हुई है और सरकार द्वारा इसे अनिवार्य बनाये जाने के बाद इस साल दिसंबर मध्य तक एक करोड़ फास्टैग इश्यू किये जा चुके हैं।

अगले साल पूरा होंगी कई परियोजनाएं
मंत्री ने कहा कि अगले साल के एजेंडा के बारे में कहा कि 12,000 करोड़ रुपये की लागत से चारधाम परियोजना को पूरा किया जाएगा और इसके तहत बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री के बीच हर मौसम में सम्पर्क के लिए इन्फ्रास्ट्रक्चर विकसित किया जा रहा है।
मोटर वाहन (संशोधन) अधिनियम, 2019 को एक उपलब्धि बताते हुए मंत्री ने कहा कि इससे दुर्घटनाओं में कमी आएगी।

लोग यातायात नियमों का पालन कर रहे हैं और यह अच्छी बात है। आने वाले वर्षों में सड़क हादसों में भी कमी आएगी। मंत्री ने कहा कि देशभर में 22 लाख चालकों की कमी है और इस कमी को ड्राइविंग केंद्रों में गुणवत्तापूर्ण प्रशिक्षण के जरिए पूरा कर लिया जाएगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

स्वान के 4 बच्चों को कुचलनेवाला ऐप कैब ड्राइवर गिरफ्तार

पोस्ता के काली कृष्ण टैगौर स्ट्रीट की घटना सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : चारों भाई-बहन एक साथ दिन भर खेलते रहते थे। गुरुवार की शाम चारों का सड़क आगे पढ़ें »

बैरकपुर फ्लाईओवर पर मांझा से कटी बाइक सवार की नाक

बैरकपुर : शुक्रवार की दोपहर बैरकपुर फ्लाईओवर पर बाइक से जा रहा अनुपम गांगुली मांझे के कारण एक हादसे का शिकार हो गया। अचानक ही आगे पढ़ें »

ऊपर