स्टार्टअप में चीन को पछाड़ा, भारत तीसरे नंबर पर

नई दिल्लीः नैस्कॉम प्रॉडक्ट काउंसिल द्वारा हाल ही में जारी की गई रिपोर्ट के मुताबिक भारत 4750 टेक स्टार्टअप्स के साथ दुनिया में तीसरे नंबर पर आ गया है, जबकि अमेरिका और ब्रिटेन पहले और दूसरे स्थान पर है। भारत ने चीन और इजरायल जैसे देशों को पीछे छोड़ दिया है।

स्टार्टअप का सबसे बड़ा गढ़ बनेगा भारत

पिछले साल तक माना जा रहा था कि स्टार्टअप को लेकर देश में काफी सुस्ती है। स्टार्टअप की राह में बड़ी बाधा बैंकों से फंडिंग को लेकर भी है। इस क्षेत्र में जिस तरह से देश लगातार तरक्की कर रहा है, इससे अनुमान लगाया जा सकता है क‌ि वर्ष 2020 तक देश में उद्यमों की संख्या 2.2 से बढ़ कर 10500 तक पहुंच जाएगी और भारत आने वाले कुछ सालों में दुनिया में स्टार्टअप का सबसे बड़ा गढ़ बन जाएगा और स्टार्टअप में परोक्ष और अपरोक्ष रूप से 210000 से अधिक लोग जुड़ कर काम कर रहे होंगे। निवेशक स्वास्थ्य, वित्तीय और शिक्षा प्रौद्योगिकी क्षेत्रों में काफी रूचि ले रहे हैं। इसके अलावा टेक्नोलॉजी स्टार्टअप की संख्या 12 फीसदी बढ़ने की उम्मीद है।

मेट्रो सिटी में स्टार्टअप का रुझान

कुछ सालों में बेंगलुरु, पुणे, चेन्नई, एनसीआर, मुंबई और हैदराबाद में स्टार्टअप की संख्या में काफी बढ़ोतरी हुई है। अनुमान है कि आने वाले समय में भी ये शहर देश में स्टार्टअप को लेकर में आगे रहेंगे। 2014 से भारत के इजराइल के मुकाबले 3.2 गुना ज्यादा स्टार्टअप में आगे रहा है। रिपोर्ट में मौजूदा सरकार द्वारा स्टार्टअप को लेकर सहयोग का भी जिक्र किया गया है।

स्टार्टअप्स में 8 फीसदी की बढ़त

रिपोर्ट के मुताबिक इस साल फंडिंग वाली स्टार्टअप्स की संख्या में 8 फीसदी बढ़ोतरी हुई। हालांकि इस साल स्टार्टअप्स की कुल फंडिंग में 20-30 फीसदी की गिरावट भी आई है। इसके बावजूद इस साल देश में तकरीबन 1400 स्टार्टअप्स का अस्तित्व सामने आया है। यह संख्या पिछले साल के मुकाबले 8 से 10 प्रतिशत अधिक है। टीयर-2 और टीयर-3 शहरों में स्टार्टअप इकोसिस्टम के उभरने की भी बात कही गई है।

युवा स्टार्टअप्स में बना रहे है अपना करियर

रेलवे में इंजीनियर की सरकारी नौकरी छोड़कर ई-कॉमर्स साइट के जरिए युवा उद्यमी उदयन सिंह ने भागलपुरी सिल्क के बुनकरों को बांका सिल्क नाम से बेचने के लिए मंच उपलब्ध कराया है। वह कहते हैं कि उनका मकसद असंगठित क्षेत्र के कामगारों को मंच उपलब्ध कराना और बिचौलिए की भूमिका को खत्म करना है। भागलपुरी सिल्क की मांग पूरी दुनिया में है। निफ्ट जैसी संस्था और बड़े डिजाइनर भी उनका सहयोग कर रहे हैं। टीयर-2 और टीयर-3 शहर पटना, लखनऊ जयपुर और अहमदाबाद जैसे शहरों के युवाओं में भी स्टार्टअप को लेकर उत्साह बढ़ा है। अच्छी नौकरी छोड़कर युवा इनोवेटिव आइडिया के साथ शुरुआत कर रहे हैं। पहले कोई बैंक जोखिम नहीं उठाना चाहते थे, लेकिन अब आपके पास आईडिया है तो बैंक और सरकार भी सहयोग कर रहे हैं।

राज्य सरकार भी कर रही है सहयोग

बिहार के उद्योगमंत्री जय कुमार सिंह कहते हैं कि टीयर-2 और टीयर-3 शहरों में भी स्टार्टअप को लेकर युवाओं में काफी जोश है। स्टार्टअप में रुझान रखने वाले युवाओं के लिए नीति बनाई गई है और इसकी बेहतरी के लिए हम लगातार काम कर रहे है, जिससे युवाओं को फायदा हो। स्टार्टअप के लिए हमने 500 करोड़ रुपये का बजट रखा है। इसके अलावा हमने युवाओं को ऑनलाइन सुविधा भी दी है जहां वे अपनी इनोवेटिव आइडियाज के बारे में बता सकते हैं। इनमें से हम चुनेंगे और पसंद आने पर शुरुआती दौर में 10 लाख रूपये का फंड देंगे। अधिकतम हम 25 करोड़ रुपये युवाओं को स्टार्टअप के लिए 5 प्रतिशत ब्याज पर दे रहे है।

डिजिटलाईजेशन से मिल रही है मदद

डिजिटलाइज के कारण स्टार्टअप्स की राहें आसान हुई हैं, जिससे युवा उद्यमियों में इसके लिए लगातार रुझान बढ़ रहा है। स्किल इंडिया, प्रधानमंत्री जन धन योजना, मुद्रा योजना, कृषि सिंचाई योजना आदि का फायदा ग्रामीण आबादी तक पहुंचाने में भी स्टार्टअप काफी सहायक सिद्ध हो रहे हैं। स्वास्थ्य बीमा, जीवन बीमा, फसल बीमा समेत मोबाइल बैंकिंग और खेती और छोटे एवं मझोले उद्योगों के लिए लोन मुहैया कराने में इन योजनाओं की भूमिका काफी महत्वपूर्ण है।

क्या है बाधा

हालांकि अभी भी इस क्षेत्र में कई बाधा है। स्टार्टअप को लेकर देश के कुछ शहर ही आगे हैं और देश के अन्य क्षेत्र इससे अछूते हैं। देश का बड़ा हिस्सा मोबाईल और इंटरनेट का इस्तेमाल नहीं करता और तकनीकी ज्ञान के अभाव में भी ग्रामीण क्षेत्रों में अभी इसका पूरा इस्तेमाल नहीं हो पा रहा है। ग्रामीण इलाकों में अभी भी इसकी खास पहुंच नहीं है। इसमें भाषा की समस्या भी आड़े आ रही है। जहां लोग थोड़ा बहुत जागरूक हैं और सुविधा है वहां लोग ऑनलाइन लेनदेन को लेकर भी आश्वस्त नहीं हैं।

मुख्य समाचार

शहीद दिवस : दीदी दिखाएंगी 26 सालों का दम

कोलकाता : पश्चिम बंगाल में तृणमूल का विकल्प नहीं, भाजपा के लिए यहां जगह नहीं, इसी लक्ष्य को लेकर आज शहीद दिवस की महारैली में आगे पढ़ें »

बिहार मोड़ से पिस्टल व कारतूस के साथ दो युवक गिरफ्तार

सिलीगुड़ीः सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) के 41 नंबर बटालियन ने शुक्रवार देर रात बागडोगरा के बिहार मोड़ से दो युवकों को 9 एमएम पिस्टल एवं आगे पढ़ें »

अमित शाह ने ममता को फोन कर बताया, कौन हो रहा है नया राज्यपाल

कोलकाता : केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को फोन कर राज्य के नये राज्यपाल जगदीप धनखड़ की नियुक्ति की जानकारी दी। आगे पढ़ें »

माओवादियों के बंद को लेकर जंगलमहल सतर्क

झाड़ग्राम : 21 जुलाई को माओवादियाें के संगठन झारखंड जनमुक्ति परिषद की ओर से झारखंड बंद बुलाया गया है, जिसे देखते हुए झाड़ग्राम जिले के आगे पढ़ें »

अपनी टीम के साथ रैली में मौजूद होंगे पीके

कोलकाता : 2021 के विधानसभा चुनाव में तृणमूल के लिए रणनीति रच रहे प्रशांत किशोर अपनी टीम के साथ आज की महारैली में मौजूद रहेंगे। आगे पढ़ें »

‘म‌हिला पुलिस अधिकारी स्लीवलेस पहनकर ऑफिस न आएं’

नई ‌दिल्ली : महिला पुलिस अधिकारी जब थाने में ड्यूटी पर आएं तो वे स्लीवलेस टॉप या वेस्टर्न स्टाइल की ड्रेस पहनकर न आएं। यह आगे पढ़ें »

Shilpa shetty Back

12 वर्षों के बाद शिल्पा करेंगी वापसी, इस रोल में दिखेंगी

मुंंबईः बाॅलीवुड अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी के दीवानों के लिए अच्छी खबर है। वे एक दशक से ज्यादा समय के बाद बड़े पर्दे पर वापसी करने आगे पढ़ें »

इंस्टाग्राम पर इंसानी खोपड़ियों व हड्डियों की धड़ल्‍ले से बिक्री, खरीददारों में ज्‍यादातर शोधार्थी

लंदन : उपभोक्‍तावाद के इस दौर में अपने प्रोडाक्‍टस को बेचने के लिए सोशल मीडिया एक अच्‍छा माध्‍यम बन गया है। इसके जरिए बहुत से आगे पढ़ें »

Rajnath in KAshmir

एक-एक आतंकी को चुन-चुनकर मारेंगे : राजनाथ

श्रीनगर : रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को कहा कि जम्मू-कश्मीर में एक-एक आतंकी को चुन-चुनकर मारेंगे। उन्होंने कहा कि घाटी से सभी आतंकियों आगे पढ़ें »

Sidhu resignation

6​ दिन बाद आखिरकार सिद्धू का इस्तीफा मंजूर

चंडीगढ़ : राज्य मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू का इस्तीफा पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने शनिवार को स्वीकार कर लिया। इसके बाद सीएम ने आगे पढ़ें »

ऊपर