स्टार्टअप कंपनियों को नहीं मिलना चाहिए दूसरा- तीसरा मौका : टाटा

नई दिल्ली : स्टार्टअप कंपनियां अगर निवेशक का पैसा धुएं में उड़ायेंगी तो उन्हें दूसरा या तीसरा मौका नहीं मिलेगा। ये बातें देश के प्रमुख उद्योगपति रतन टाटा ने टिकॉन अवार्ड समारोह को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने स्टार्टअप कंपनियों को चेतवानी देते हुए कहा कि अगर वे निवेशक के पैसों को ऐसे ही उड़ाती रहीं तो उन्हें फंड मिलना बंद हो जाएगा।

आपको बता दें कि टाटा ने खुद भी कई स्टार्टअप कंपनियों में निवेश किया है। उन्होंने कहा कि पुराने व्यवसायों में कमी आएगी, जबकि युवा संस्थापकों की इनोवेटिव कंपनियां भारतीय उद्योग जगत का भविष्य तय करेगी। टाटा को इस कार्यक्रम में जीवन पर्यन्त उपलब्धि पुरस्कार से नवाजा गया है। कुछ समय से कई स्टार्टअप कंपनियों पर निवेशकों का पैसा ‘बर्बाद” करने का आरोप लग रहा है।

बजट में मिल सकता है रियल एस्टेट क्षेत्र को बड़ी राहत 

माना जा रहा है कि निवेशकों ने एक उम्मीद के तौर पर इन कंपनियों में पैसा लगाया, जबकि यह कंपनियां लगातार घाटे में चल रही हैं।   टाटा ने कहा कि निवेशकों को निवेश करते हुए सावधान रहने की जरूरत है, कई ऐसी स्टार्टअप कंपनियां भी हैं जो हमारा ध्यान खीचेंगी और पैसा जुटायेंगी और गायब हो जाएंगी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

कोरोना के खिलाफ शुरु हुई जंग, वैक्सीन ने संभाला मोर्चा

राज्य के 207 केंद्रों में लगा कोविड-19 कोविशिल्ड का टीका कोलकाताः राज्य में शनिवार की सुबह कोविड-19 टीकाकरण अभियान शुरू हो गया, जिसमें कोविशिल्ड वैक्सीन राज्य आगे पढ़ें »

बाहरियों से बचाना है बंगाल की संस्कृति को : फिरहाद

उत्तर बैरकपुर में नवनिर्मित कन्वेंशन सेंटर का हुआ उद्घाटन बैरकपुर : तथाकथित बड़े नेता बंगाल के जिलों व शहरों में चक्कर लगा रहे हैं और यहां आगे पढ़ें »

ऊपर