सेंसेक्स एक बार फिर नये रिकार्ड पर

मुंबईः घरेलू शेयर बाजार ऊंची छलांग लगाकर एक बार फिर नये रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुए। विदेशी बाजारों से मिले मिश्रित संकेतों के बीच एनटीपीसी,भारती एयरटेल और बजाज फाइनेंस जैसी दिग्गज कंपनियों में हुई लिवाली के दम पर बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 329.92 अंक की तेजी के साथ 39,831.97 अंक पर रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ। इस दौरान नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 84.80 अंक की बढ़त के साथ 11,945.90 अंक के रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ। सेंसेक्स की 30 में से 20 कंपनियां हरे निशान में और 10 लाल निशान में रहीं। निफ्टी की 50 में से 32 कंपनियां बढ़त में और 18 गिरावट में रहीं। बीएसई में कुल 2,712 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ जिनमें 1,243 में तेजी और 1,311 में गिरावट रही जबकि 158 कंपनियों के शेयरों के दाम में कोई बदलाव नहीं हुआ।
क्या रहा कारण
अमेरिका और चीन के बीच तनाव के गहराने से दुनिया भर के शेयर बाजारों में निवेश धारणा कमजोर रही। हालांकि, लोकसभा चुनाव में भारी बहुमत के साथ सत्ता में नरेंद्र मोदी सरकार की वापसी से घरेलू बाजार के प्रति निवेशकों का मनोबल बढ़ा है। ऐसे कयास लगाये जा रहे हैं कि मोदी प्रधानमंत्री के रूप में अपेन दूसरे कार्यकाल में आर्थिक मोर्चे पर अधिक सजग होंगे, जिससे निवेश धारणा मजबूत रही।
सेंसेक्स की चाल
सेंसेक्स बढ़त के साथ 39,580.28 अंक पर खुला। बाजार में शुरुआती पहर में वैश्विक कारणों से बिकवाली रही लेकिन बाद में सेंसेक्स ने मजबूत वापसी की। कारोबार के दौरान यह 39,911.92 अंक के दिवस के उच्चतम और 39,500.56 अंक के दिवस के निचले स्तर के दायरे में रहा। निफ्टी भी तेजी के साथ 11,865.30 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान यह 11,968.55 अंक के दिवस के उच्चतम और 11,859.40 अंक के दिवस के निचले स्तर के दायरे में रहा।
दिग्गज कंपनियों की तरह छोटी और मंझोली कंपनियों में भी लिवाली का जोर रहा। बीएसई का मिडकैप 0.40 प्रतिशत यानी 59.68 अंक की तेजी में 15,061.35 अंक पर और स्मॉलकैप 0.20 प्रतिशत यानी 29.90 अंक की बढ़त में 14,964.15 अंक पर बंद हुआ।

शेयर करें

मुख्य समाचार

दीपवाली पर नकली मिठाइयों से रहें सावधान, स्वास्थ हो सकता है खराब

नई दिल्ली : त्योहारों पर मिठाइयां ना हो तो त्योहारों का मजा नहीं आता। दीपावली जैसे जैसे करीब आ रही है, बाजार में मिलावटी छेना आगे पढ़ें »

आईएमएफ ने कहा, कॉरपोरेट टैक्स में कटौती स्वागत योग्य फैसला, बढ़ेगा निवेश

नई दिल्ली : अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) ने कॉरपोरेट टैक्स में कटौती के भारत के फैसले की तारीफ करते हुए कहा है कि यह स्वागत आगे पढ़ें »

ऊपर