सार्वजानिक क्षेत्र की कंपनियों में हिस्सेदारी बेंचकर जवाबदेही तय करेगी सरकार

dharmendra pradhan

नई दिल्ली : केंद्रीय इस्पात मंत्री धमेंद्र प्रधान ने कहा कि सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों में हिस्सेदारी बेचकर सरकार इन्हें पेशेवर बनाना और जवाबदेह बनाना चाहती है। उन्होंने कहा कि सरकारी कंपनियों को इस विनिवेश में बोली लगाने से दूर रखा जाएगा।

प्रधान ने सरकारी स्टील कंपनियों सेल और आरआइएनएल को अधिक प्रतिस्पर्धी बनाने की जरूरत पर बल दिया। उन्होंने कहा कि अगर निजी कंपनियां बाजार की प्रतिस्पर्धा का सामना करके स्टील उत्पादन कर सकती हैं तो सेल और आरआइएनएल को भी इसके लिए तैयार रहना चाहिए। सार्वजनिक कंपनियों की देखरेख सरकार करती है, इसलिए जनता के प्रति हमारी जवाबदेही बनती है।

आपको बता दें कि चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही के दौरान देश की सबसे बड़ी स्टील निर्माता कंपनी सेल को 342.84 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ था। प्रधान ने स्टील कंपनियों से ग्रीन स्टील के उत्पादन की दिशा में काम करने को कहा और साथ ही उन्होंने कोयले की जगह पर्यावरण अनुकूल ईंधन का प्रयोग करके स्टील उद्योग ग्रीन स्टील के उत्पादन के लक्ष्य को प्राप्त कर सकता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सोनम वांगचुक के चीनी उत्पादों के बहिष्कार अभियान को व्यापारियों का मिला समर्थन

नई दिल्ली : कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने कहा है कि देश के सात करोड़ व्यापारी लद्दाख के शैक्षिक सुधारक सोनम वांगचुक के आगे पढ़ें »

पूर्व पाक कप्तान हनीफ का दावा, 1983 में हॉकी टीम के सदस्‍य तस्‍करी में लिप्‍त थे 

कराची : पाकिस्तान के पूर्व हॉकी कप्तान हनीफ खान ने आरोप लगाया कि 1983 में हांगकांग से वापस आते समय उनकी टीम के कुछ खिलाड़ियों आगे पढ़ें »

ऊपर