सरकार अगले वित्त वर्ष में राजकोषीय घाटे के लक्ष्य को पाने में सफल होगीः मूडीज

नई दिल्लीः वित्त वर्ष 2018-19 का बजट राजकोषीय मजबूती और वृद्धि के बीच संतुलन स्थापित करने वाला है तथा राजकोषीय घाटे को सीमित करने की राह से छोटे-मोटे भटकाव का अर्थव्यस्था की कुल ताकत पर कोई असर नहीं पड़ेगा। वैश्विक रेटिंग एजेंसी मूडीज ने यह संभावना जताई है। सरकार ने 2018-19 के लिए राजकोषीय घाटे के लक्ष्य को बढ़कार 3.3 प्रतिशत कर दिया है, जबकि चालू वित्त वर्ष में इसके सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के 3.5 प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया था। मूल लक्ष्य क्रमश 3 प्रतिशत और 3.2 प्रतिशत का था।
मूडीज के वरिष्ठ उपाध्यक्ष-वरिष्ठ क्रेडिट अधिकारी विलियम फॉस्टर ने कहा कि संशोधित राजकोषीय मजबूती का लक्ष्य पिछली रूपरेखा से कुछ अधिक है, लेकिन इससे भारत की कुल राजकोषीय मजबूती पर असर नहीं पड़ेगा। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकर के कर्ज से जीडीपी अनुपात को घटाकर 40 प्रतिशत पर लाने का मध्यम अवधि का लक्ष्य सॉवरेन क्रेडिट परिदृश्य की दृष्टि से सकारात्मक है। मूडीज ने बयान में कहा कि मार्च 2019 में समाप्त होने वाले वित्त वर्ष के लिए भारत के बजट में राजकोषीय मजबूती और वृद्धि के बीच संतुलन बैठाने का प्रयास किया गया है। मूडीज के उपाध्यक्ष एवं वरिष्ठ विश्लेषक जॉय रैकोथगे ने कहा कि इस बजट से कॉरपोरेट क्षेत्र के साथ बीमा क्षेत्र को भी फायदा होगा। मूडीज के अनुमान है कि सरकार अगले वित्त वर्ष में राजकोषीय घाटे के लक्ष्य को पाने में सफल रहेगी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

car fire

कार में आग लगने से युवक की मौत

मुजफ्फरपुर : जिले के गायघाट थाना क्षेत्र के बेला ढ़ाला के पास शुक्रवार तड़के एक कार के पलट जाने से उसमे आग लग गयी जिससे आगे पढ़ें »

सरकार जल्द शुरू करेगी भारतक्राफ्ट पोर्टल, 2-3 साल में 10 लाख करोड़ रुपये कारोबार का लक्ष्य रखा

नई दिल्ली : मोदी सरकार जल्द ही अलीबाबा और अमेजन की तरह ही ई-कॉमर्स मार्केटिंग प्लेटफार्म 'भारतक्राफ्ट' पोर्टल पेश करेगी। इस प्लेटफार्म से 2-3 साल आगे पढ़ें »

ऊपर