व्यापार विवादों से बचें बड़ी ताकतेंः यूरोपीय संघ

बीजिंगः अमेरिका, चीन और रूस जैसी ताकतों से यूरोपीय संघ ने व्यापार में ‘टकराव तथा अराजकता’ से बचने के लिए मिलकर चलने को कहा है ताकि स्थितियां हिंसक विवाद का रूप न लें। बीजिंग में सोमवार को यूरोपीय संघ परिषद के अध्यक्ष डोनाल्ड टस्क ने कहा कि यह यूरोप और चीन ही नहीं अमेरिका और रूस का भी साझा दायित्व है कि वैश्विक व्यापार की स्थिति न बिगड़े। इन देशों को ऐसे व्यापार युद्ध में नहीं पड़ना चाहिए जो उग्र टकराव का करण बन जाए जैसा कि इतिहास में कई बार हो चुका है। ’

बचने का समय

चीन के प्रधानमंत्री ली क्विंग के साथ यूरोपीय संघ चीन के सालाना शिखर सम्मेलन के तहत बैठक के बाद टस्क ने कहा कि अभी समय है जबकि हम टकराव और अराजगकता से बच सकते हैं। चीन और यूरोपीय अधिकारियों की बीजिंग बैठक ऐसे समय हुई है जबकि ट्रंप हेलसिंकी में रूस के नेता व्लादिमिर पुतीन के साथ वार्ता की तैयारी कर रहे हैं।

क्या है मामला

यूरोपीय संघ 28 देशों और 50 करोड़ लोगों के साथ दुनिया का सबसे बड़ा एकल बाजार है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की ‘ अमेरिकी उत्पादों को वरीयता ’ देने के नारे के तहत संरक्षणवाद को बढ़ावा देने के मद्देनजर यूरोपीय संघ अन्य अर्थव्यवस्थाओं के साथ संबंधों का विस्तार करने की कोशिश कर रहा है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

टोक्‍यों ओलंपिक में खिलाड़ियों का पूरा समर्थन करेगा देश : कोविंद

नयी दिल्ली : राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शनिवार को कहा कि 24 जुलाई से नौ अगस्त तक आयोजित 2020 टोक्यो ओलंपिक में देश का प्रतिनिधित्व आगे पढ़ें »

बुकर पुरस्कार विजेता जोखा अल हार्सी पहुंचीं जयपुर साहित्य महोत्सव में, लेखन चुनौतियों का जिक्र किया

जयपुरः ओमान की लेखिका एवं बुकर पुरस्कार विजेता जोखा अल हार्सी के लिए लेखन का सबसे दिलचस्प और चुनौतीपूर्ण पहलू समाज में मौजूद अनसुनी और आगे पढ़ें »

ऊपर