पहली बार व्यापार घाटे में तकरीबन 10 अरब डॉलर की कमी आई : प्रभु

नयी दिल्ली : केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु ने गुरुवार को एक कार्यक्रम के दौरान उद्योगपतियों को संबोधित करते हुये वित्तीय वर्ष 2018-19 में भारतीय वस्तुओं एवं सेवाओं के निर्यात का आंकड़ा 540 अरब डॉलर तक पहुंचने की उम्मीद जतायी है।
भारतीय निर्यात में लगातार सकारात्मक रूख
प्रभु ने कहा कि बीते वित्त वर्ष में इतिहास में पहली बार व्यापार घाटे में तकरीबन 10 अरब डॉलर की कमी आयी है। उन्होंने कहा कि वस्तु निर्यात की हिस्सेदारी फरवरी 2019 तक 298.47 अरब डॉलर तक पहुंच गयी है। उन्होंने कहा कि वैश्विक स्तर पर मांग गिरने के बावजूद भारत का निर्यात में लगातार सकारात्मक रूख रहा है।
मुक्त व्यापार समझौते का उल्लेख करते हुए प्रभु ने कहा कि इन समझौतों में घरेलू कारोबार को ध्यान में रखा जाएगा। विश्व के कई देशों ने संरक्षणवादी उपाय लागू किये लेकिन भारतीय निर्यातकों ने बढ़त बनाए रखी। उन्होने कहा कि निर्यात को प्रोत्साहन देने के लिए सरकार ने भारी संख्या में स्टार्टअप स्थापित करने में मदद दी है। साथ ही कारोबारी बाधायें दूर करने के लिए उद्योगपतियों के साथ लगातार चर्चा की जा रही है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

71 साल के हुए लिटिल मास्टर सुनील गावस्कर

नयी दिल्ली : क्रिकेट के सर्वश्रेष्ठ सलामी बल्लेबाज और पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर शुक्रवार को 71 वर्ष के हो गए और उनके जन्मदिन पर आगे पढ़ें »

टमाटर में छुपे हैं अच्छी सेहत के खजाने

बचपन से ही हम लोग एक बात सुनते आ रहे हैं कि रोजाना एक सेब खाने से हमारी सेहत ठीक रहती है लेकिन शायद हम आगे पढ़ें »

ऊपर