वृद्धि दर को सात प्रत‌िशत से अधिक ले जाएगा भारत ः राजीव कुमार

संयुक्त राष्ट्रः आर्थिक वृद्धि दर को भारत अगले पांच साल के दौरान सात प्रतिशत से अधिक करने को प्रतिबद्ध है। वह सुनिश्चित करेगा कि स्थिरता और विकास को लेकर किसी तरह की दुविधा नहीं रहे। इधर, सतत विकास लक्ष्यों (एसडीजी) को हासिल करने की दिशा में भारत की शानदार प्रगति की संयुक्त राष्ट्र के शीर्ष अधिकारियों ने ‘सराहना’ की है। संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में एक विशेष कार्यक्रम में नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने कहा कि अभी भारत एक बड़े बदलाव की दिशा में है। सरकार ने निश्चित किया है कि समावेश इसका एक हिस्सा हो। हमारा लक्ष्य अगले पांच साल के दौरान वृद्धि दर को सात प्रतिशत से अधिक करना है। अपने युवा लोगों की आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए हमें ऊंची वृद्धि दर प्राप्त करनी होगी। हमें रास्ते में आने वाली अड़चनों का भी ध्यान रखना होगा। उसके बाद ही हम वृद्धि का लाभ उन लोगों तक पहुंचा सकेंगे जिनके पास इसे पहुंचाना हैं। इससे भारत 2030 तक ऐसे देश के रूप में उभरेगा, जिसने एसडीजी के लक्ष्यों का एक बड़ा हिस्सा हासिल किया है। संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (यूएनडीपी) के प्रशासक एचिम स्टेनर ने भारत की महत्वाकांक्षी पहलों पर कहा कि इनकी वजह से लोगों का जीवनस्तर सुधर रहा है और एसडीजी में वृद्धि हो रही है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

ऊपर