वीनजो मोबाइल गेमिंग ईकोसिस्टम और गेम डेवलपर्स को बढ़ावा देने के लिए 1.5 मिलियन डॉलर निवेश करेगा

नई दिल्ली: भारत के सबसे बड़े स्थानीय ई-स्पोर्ट्स गेमिंग प्लेटफॉर्म वीनजो ने कंटेंट हासिल करने और गेम डेवलपर्स को सपोर्ट करने के लिए 1.5 मिलियन डॉलर फंड की घोषणा की। वीनजो को कलारी कैपिटल का सहयोग प्राप्त है। यह इंग्लिश, हिंदी, बांग्ला, तमिल, तेलुगू, कन्नड़, गुजराती, मराठी, पंजाबी और भोजपुरी सहित 10 भाषाओं में अपने ऐप आधारित प्लेटफाॅर्म पर 25 डॉलर गेम्स प्रस्तुत करता है। इसका उद्देश्य रियल टाईम मल्टी-प्लेयर मोबाईल गेमिंग का अनुभव प्रदान करना है, जो सोशल, समावेशी और टियर 2 एवं टियर 3 बाजारों में पहली बार स्मार्टफोन का उपयोग करने वालों के लिए एक्सेसिबल हो।

कंपनी इस फंड का उपयोग भारत एवं विश्व में चैरी-पिक्ड गेम डेवलपर्स के साथ साझेदारी में प्लेटफाॅर्म के लिए स्थानीय कंटेंट का विकास करने के लिए करेगा। इस सबसे बड़े स्थानीय ईस्पोर्ट्स प्लेटफाॅर्म पर 80 प्रतिशत से ज्यादा यूजर्स गैर-अंग्रेजी भाषा में ऐप का उपयोग कर रहे हैं। इस प्लेटफाॅर्म पर खिलाड़ियों द्वारा बिताया जाने वाला औसत समय 55 मिनट है, देश के सर्वोच्च शहरों से केवल 10 प्रतिशत खिलाड़ी हैं। इस फंड की घोषणा करते हुए पावन नंदा, को-फाउंडर, वीनजो ने कहाकि इस फंड द्वारा हम गेमिंग स्टूडियो तथा स्वतंत्र गेम डेवलपर्स के साथ साझेदारी की संभावना तलाश रहे हैं और उन्हें सर्वोच्च क्वालिटी का कंटेंट विकसित करने के लिए बुनियादी ढांचा तथा पहले दिन से अपने गेम से आय अर्जित करने का शक्तिशाली प्लेटफाॅर्म प्रदान कर रहे हैं।
जब दुनिया के सर्वश्रेष्ठ दिमाग किसी सेक्टर की संभावनाओं के विकास के लिए काम करते हैं, तो उसमें उछाल आ जाता है। इस अभियान द्वारा हम उत्साहित एवं सर्वोच्च प्रतिभाओं के साथ बात करने के लिए उत्साहित हैं, जो ग्लोबल गेमिंग ईकोसिस्टम में बड़ा बदलाव लाने के लिए उत्सुक हैं।

वीनजो एक सोशल मल्टी-प्लेयर स्किल गेमिंग प्लेटफाॅर्म है, जो प्रतिदिन 100 एमएम गेमिंग मिनट पूरे करता है और इस संलग्नता से आय अर्जित करता है। कंपनी 50 प्रतिशत प्रतिमाह की दर से बढ़ रही है। एक तरफ बड़े ओटीटी प्लेटफाॅर्म भारत में आय अर्जित करने के लिए संघर्ष कर रहे हैं, वहीं वीनजो टी2/टी3 ग्राहकों से पहला एमएंडई विनिमय संभव बना रहा है। वीनजो का डिजाइन भारत के गेमिंग ईकोसिस्टम में एक स्थिर मोनेटाईजेशन माॅडल का समाधान करने के लिए किया गया, जिसमें दुनिया में सर्वाधिक संलग्नता हो। दुनिया में 300 एमएम इंटरनेट यूजर्स हैं, जो अपने स्मार्टफोन पर प्रतिदिन 45 से अधिक मिनट गेम खेलते हुए बिताते हैं। ये यूजर इन ऐप खरीद बहुत कम करते हैं और इन डिजिटल एस्सेट्स से मिलने वाला एडवरटाईज़िंग का राजस्व इसके ग्लोबल काउंटरपार्ट्स के मुकाबले बहुत कम है।

मोबाईल के बढ़ते उपयोग एवं पेनेट्रेशन के कारण भारत में मोबाईल गेमिंग में उछाल आया है। एक औसत मोबाईल डिवाईस यूजर ओटीटी देखने, गेम खेलने या फिर म्यूज़िक सुनने और आॅनलाईन शाॅपिंग करने में प्रतिदिन 3 से 4 घंटे बिताता है। मोबाईल गेमिंग भारतीय यूज़र्स के लिए सबसे तेजी से बढ़ता हुआ मनोरंजन का स्रोत है। यह उछाल गेमिंग के ईकोसिस्टम, रोजगार निर्माण, मनोरंजन, इंगेज़मेंट और मार्केट ग्रोथ में अपार अवसर निर्मित करेगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

हावड़ा का हाल देख सीएम बिफरीं

हावड़ा : हल्की सी बारिश में ही हावड़ा बन जाता है तालाब। बस्ती में रहनेवाले आज भी नरकीय जीवन जी रहे हैं। उत्तर से द​क्षिण आगे पढ़ें »

बड़ाबाजार लाया जा रहा 3.80 करोड़ का 10 किलो सोना सिलीगुड़ी में जब्त, 3 गिरफ्तार

सिलीगुड़ी / कोलकाता : बड़ाबाजार लाया जा रहा 3.80 करोड़ रुपये की कीमत के 10 किलो सोना सिलीगुड़ी में डीआरआई की टीम ने जब्त किया। आगे पढ़ें »

ऊपर