विमानन क्षेत्र में गिरावट, घरेलू हवाई यात्रियों की संख्या घटकर आठ से नौ करोड़ रह जाने की संभावना

नई दिल्ली : एयरलाइन परामर्श कंपनी सीएपीए इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक कोरोना वायरस के कारण इन दिनों यात्रा पर प्रतिबंध है, जिसके कारण चालू वित्त वर्ष में घरेलू हवाई यात्रियों की संख्या घटकर आठ से नौ करोड़ रह जाने की संभावना है।

रिपोर्ट के मुताबिक भारतीय कंपनियों ने 200 से अधिक विमानों की ऑर्डर किया था, जिसकी आपूर्ति भी दो साल तक के लिए टल सकती है। रिपोर्ट के मुताबिक कोविड-19 और भारतीय विमानन उद्योग की स्थिति में वित्त वर्ष 2020-21 में घरेलू हवाई यात्रियों की संख्या घटकर आठ से नौ करोड़ रहने का अनुमान है, पहले अनुमान 14 करोड़ यात्रियों का था। भारतीय अंतरराष्ट्रीय हवाई यात्रियों की संख्या भी घटकर साढ़े तीन से चार करोड़ रहने का अनुमान है, यह पिछले वित्त वर्ष में सात करोड़ थी।

रिपोर्ट केमुताबिक कोरोना के कारण यात्रा प्रतिबंध और आर्थिक गतिविधियों में नरमी से वित्त वर्ष 2020-21 की पहली तिमाही भारतीय उद्योगों के लिए बेहतर नहीं होगा, जबकि दूसरी तिमाही में विमानन कंपनियों के हालात मामूली तौर पर सुधरेंगे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

दिल्ली उपराज्यपाल के दफ्तर में मिले 13 कोरोना से संक्रमित कर्मचारी

नयी दिल्ली : दिल्ली के उपराज्यपाल (एलजी) अनिल बैजल के दफ्तर के 13 कर्मचारी और छह अन्य सरकारी कर्मचारी कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए आगे पढ़ें »

जेसिका लाल हत्याकांड के दोषी मनु शर्मा की हुई समय से पहले रिहाई

नयी दिल्ली : दिल्ली के उप राज्यपाल अनिल बैजल ने जेसिका लाल हत्याकांड के दोषी मनु शर्मा को समय से पूर्व जेल से रिहा करने आगे पढ़ें »

ऊपर