विप्रो राजस्व बढ़ाने के लिए करेगी निवेश

नई दिल्ली : विप्रो अपना राजस्व बढ़ाने के लिए भारत सरकार और राज्य सरकार के अधीन सरकारी प्रतिष्ठानों के साथ कारोबार करेगी। कंपनी अकाउंट मैनेजर और सेल्स प्रोफेशनल्स की भर्ती कर रही है। दरअसल अजिम प्रेमजी की कंपनी विप्रो की योजना सरकारी प्रतिष्ठा्नों को आईटी सेवा प्रदान करने की है। इसके लिए 15 अकाउंट मैनेजर व सेल्स प्रोफेशनल रखे जाएंगे।

एक रिपोर्ट के मुताबिक वित्त वर्ष 2018-19 की चौथी तिमाही में वैश्विक सॉफ्टवेयर दिग्गज विप्रो ने साल-दर-साल आधार पर मुनाफे में 38 फीसदी वृद्धि दर्ज की है, जोकि 2,494 करोड़ रुपये रहा।
कंपनी कारोबार में कुछ बदलाव कर रही है, जिसके लिए दोबारा निवेश करेगी, लेकिन वही प्रोजेक्ट चुने जाएंगे जो प्रॉफिट बढ़ाने वाले हैं। कंपनी दक्षिण और पश्चिम भारत के बैंक और अन्ये सरकारी प्रतिष्ठानों के साथ बिजनेस बढ़ाएगी। कंपनी के इंडिया स्टेट रन बिजनेस की बागडोर संजीव सिंह संभाल रहे हैं, जबकि आनंद पद्भनाभन देश में उसके प्राइवेज एंटरप्राइज की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं।

तिमाही परिणाम जारी करते हुए कंपनी ने कहा कि समीक्षाधीन तिमाही में उसके राजस्व में साल-दर-साल आधार पर 9 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है, जोकि 15,006 करोड़ रुपये रहा। कंपनी के आईटी सेवाओं के कारोबार से प्राप्त राजस्व में हालांकि समीक्षाधीन अवधि में साल-दर-साल आधार पर 2.8 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई, जोकि 14,565 करोड़ रुपये रहा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

diabetes-day-image

ऐसी जीवनशैली अपनाएंगे तो नहीं होगी डायबिटीज

मधुमेह के लक्षण, इलाज और घरेलू उपचार हमारी बिगड़ती जीवनशैली के कारण हमारा शरीर कई बीमारियों का घर बन गया है। इन्हीं बीमारियों में से एक आगे पढ़ें »

डेहरी ऑन सोन : बोलेरो और गैस टैंकर की टक्कर में दो की मौत, पांच गंभीर

डेहरी ऑन सोन : बिहार में रोहतास जिले के डेहरी के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी संजय कुमार ने बुधवार को यहां बताया कि स्थानीय सूअरा मोड़ आगे पढ़ें »

ऊपर