नए नियम से हिली वॉलमार्ट, तोड़ सकती है फ्लिपकार्ट से नाता, अमेजन ने कहा- भारत में कारोबार के अच्छे अवसर

नई दिल्लीः भारत सरकार के रिटेल सेक्टर में एफडीआई को लेकर किए गए बदलाव से ऑनलाइन कंपनिया आहत है। इस वजह से फ्लिपकार्ट, अमेजन जैसी कंपनियों के बिक्री पर असर पड़ रहा है। इसके तहत इन कंपनियों ने अपने कई उत्पादों को ऑनलाइन बाजार से हटा लिए हैं। वहीं, वॉल स्ट्रीट दिग्गज मॉर्गन स्टैनली ने आशंका जताई है कि अगर ऐसे ही हालात रहे तो जल्द ही वॉलमार्ट फ्लिपकार्ट से नाता तोड़ भारत से वापस लौट सकती है। कंपनी फ्लिपकार्ट को किसी दूसरे के हाथ में बेचकर भारतीय बाजार से बाहर निकल जाएगी। इससे पहले साल 2017 में अमजेन कंपनी ने चीन में अपना कारोबर बंद कर दिया था। वहीं, फ्लिपकार्ट के प्रवक्ता का कहना है कि नई एफडीआई पॉलिसी को लागू करने में सरकार ने जल्दबाजी दिखाई, जिससे हमें निराशा हुई है। लेकिन हम नए नियमों को लागू करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।
बता दें, पिछले साल अगस्त महीने में ही खुदरा कारोबार क्षेत्र की दिग्गज अमेरिकी कंपनी वॉलमार्ट इंक ने भारत के फ्लिपकार्ट में 77 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदी थी। इसके बाद कंपनी का मालिकाना हक वॉलमार्ट के पास है।

25 फीसदी उत्पादों को बाहर करना होगा
नए नियमों के अनुसार फ्लिपकार्ट को अपने करीब 25 फीसदी उत्पादों को बाहर करना होगा। इसके साथ ही फ्लिपकार्ट और अमेजन के सप्लाई चेन और एक्सक्लूसिव डील पर भी असर पड़ा है। इन दोनों कंपनियों को इस तरह से 50 फीसदी की आमदनी होती थी। फ्लिपकार्ट की सबसे ज्यादा आमदनी मोबाइल सेल और इलेक्ट्रॉनिक उत्पादों के जरिए होती थी।
अमेरिका की ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन का कहना है कि भारतीय बाजार में कारोबार के अच्छे अवसर हैं लेकिन वह ऑनलाइन मार्केटप्लेस के लिए नई एफडीआई नियमों का आंकलन कर रही है। कंपनी ने कहा कि उसके प्लेटफार्म पर ग्राहकों और विक्रेताओं को किसी तरह के अवांछित परिणामों का सामना न करना पड़े इसलिए वह ऐसा कदम उठा रही है।

5 अरब डॉलर का निवेश करेगा अमेजन
एक फरवरी से नए नियम लागू होते ही अमेजन ने अपने ऑनलाइन मार्केट से मोबाइल एसेसरीज और बैटरी समेत कई उत्पादों को हटा दिया है। ग्रॉसरी उत्पादों की आपूर्ति करने वाली पैंट्री सेवा भी अब देश में अनुपलब्ध हो गई है। हालांकि अमेजन ने भारत में 5 अरब डॉलर के निवेश की प्रतिबद्धता जताई है। कंपनी ने कहा कि उसने अपने कारोबार का निर्माण मूल्य चयन और सुविधा के इर्दगिर्द किया है। रिपोर्ट के मुताबिक नई ई-कॉमर्स पॉलिसी के लागू होते ही दूसरे दिन ही फ्लिपकार्ट और अमेजन की ऑनलाइन मार्केटप्लेस से 4 लाख से अधिक उत्पाद गायब हो गए थे। नई व्यवस्था से अमेजन पर सबसे ज्यादा मार पड़ी है। फ्लिपकार्ट पर भी इसी तरह का असर है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बासुकीनाथ में अब पूजा अर्चना के लिए बनेंगे आजीवन दाता कार्ड

दुमका : दुमका जिले में बाबा बासुकीनाथ धाम मंदिर न्यास समिति ने आजीवन दाता कार्ड सदस्य बनाने का निर्णय लिया है। समिति ने रविवार को आगे पढ़ें »

आतंकवादियों को अलग-थलग करने पर ध्यान केंद्रित कर रही है कश्मीर पुलिस : डीजीपी

श्रीनगर : जम्मू-कश्मीर से धारा 370 के हटाए जाने के बाद से ही सरकार और पुलिस वहां शांति बनाए रखने की कोशिश में जू‌टी है। आगे पढ़ें »

flood

हिमाचल : बारिश और बाढ़ की चपेट में आने से 8 लोगों की मौत, प्रदेश के 323 सड़के क्षतिग्रस्त

Gun-shot 1

आरपीएफ जवान ने गोलीमार कर की रेलकर्मी समेत उसकी पत्नी और पुत्री की हत्या

saho

इस फिल्‍म के नए पोस्टर में दिखी प्रभास और श्रद्धा कपूर की लव केमिस्ट्री

rajnath

रक्षामंत्री ने पाक को दी चेतावनी, पीओके के अलावा किसी दूसरे विषय पर बातचीत नहीं होगी

जियो फाइबर ब्रॉडबैंड अगले महीने होगी लॉन्च, जानिए प्लान्स

एफपीआई से लगातार निकासी जारी, अबतक घरेलू पूंजी बाजार से 8,319 करोड़ रुपये की निकासी

पूर्व मुख्यमंत्री पर लगा फोन टैपिंग का आरोप, येदियुरप्पा बोले- होगी सीबीआई जांच

गूगल मैप ने चार महीने से लापता बेटी को पिता से मिलाया

ऊपर