वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम लिस्ट में भारत 10 पायदान फिसला, इस क्षेत्र में है सबसे खराब प्रदर्शन

नई दिल्ली : भारत वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम की कॉम्पिटिटिव इकोनॉमी लिस्ट में 10 पायदान पीछे चला गया है। इस लिस्ट में भारत का स्थान 58 वां था, जो अब 68 वां हो गया है। लिस्ट में भारत की रैंकिंग में गिरावट कई दूसरे देशों की अर्थव्यवस्था में सुधार के कारण आई है। इस लिस्ट में अमेरिका भी फिसल गया है और अमेरिका के स्थान पर सिंगापुर आ गया है। अमेरिका की रेंकिंग में गिरावट का मुख्य कारण ट्रेड वॉर बताया जा रहा है।

लिस्ट जारी करते हुए वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम ने कहा है कि भारत अभी भी आर्थिक स्थिरता में अच्छे स्तर पर है और यहां की इकोनॉमी में काफी गहराई है। साथ ही फोरम ने यह भी कहा कि भारत का बैंकिंग सेक्टर बैड लोन के संकट से गुजर रहा है। कॉरपोरेट गवर्नेंस में भारत 15 वें स्थान पर आया है और वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम ने शेयरहोल्डर गवर्नेंस के मामले में भारत को दूसरे स्थान पर और मार्केट साइस के मामले में तीसरे स्थान पर रखा है।

इसके अलावा नवीकरणीय ऊर्जा क्षेत्र में भी भारत को तीसरे स्थान पर रखा गया है। भारत का स्थान स्वस्थ जीवन प्रत्याशा के मामले में काफी निराशाजनक है। इस इंडेक्स के लिए 141 देशों का सर्वे हुआ, जिसमे भारत का स्थान 109 वां है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

amit shah

अमित शाह बोले- शिवसेना ने फड़णवीस के नाम पर मांगे वोट

मुंबई : गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को महाराष्ट्र में चल रहे राजनीतिक हलचल को लेकर शिवसेना पर निशाना साधते हुए कहा है कि आगे पढ़ें »

tejas

स्वदेशी फाइटर जेट तेजस ने पहली बार रात में अरेस्टेड लैंडिंग की, परीक्षण सफल

नई दिल्ली : स्वदेशी हल्के लड़ाकू विमान (एलसीए) तेजस ने रात में अरेस्टेड लैंडिंग का परीक्षण सफलतापूर्वक पूरा किया। रक्षा अनुसंधान विकास संगठन (डीआरडीओ) ने आगे पढ़ें »

ऊपर