रतन टाटा खुद को मानते हैं ‘एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक’, कई बड़ी कंपनियों में है हिस्सेदारी

नई दिल्ली : उद्योगपति और टाटा समूह के चेयरमैन रतन टाटा ने खुद को ‘एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक’ माना है। उन्होंने दर्जनभर से ज्यादा स्टार्टअप कंपनियों में निजी निवेश किया है, जिसे उन्होंने एक दुर्घटना बताया। ऑनलाइन कैब सुविधा प्रोवाइड कराने वाली कंपनी ओला और पेटीएम में भी टाटा 2015 से निवेश कर रही है और वे इनमें शुरुआती निवेशक हैं।

उन्होंने सबसे पहला निवेश ई-कॉमर्स कंपनी स्नैपडील में किया था। पेटीएम पर मालिकाना हक रखने वाली वन97 कम्युनिकेशंस में भी उनकी छोटी हिस्सेदारी है। वह कंपनी में सलाहकार भी हैं। मीडिया से एक बातचीत में उन्होंने कहा कि मेरा स्टार्टअप निवेशक बनना किसी योजना का हिस्सा नहीं था। जब मैं टाटा समूह के साथ काम कर रहा था, तब भी स्टार्टअप क्षेत्र मुझे अपनी ओर खींच रहा था, लेकिन इससे दूरी बना लिया क्योंकि यह टाटा समूह के हितों से टकराव था।

उन्होंने कहा कि जब मैं रिटायर हुआ तो मेरे ऊपर से टाटा समूह की जिम्मेदारी खत्म हो गई, जिसके बाद मैंने खुद के पैसे से कंपनियों में छोटा-छोटा निवेश करना शुरू किया। दो से तीन साल इस क्षेत्र में रहने के बाद जाना कि यह क्षेत्र बहुत सक्रिय है और इसमें सबसे अच्छे दिमाग वाले लोग काम कर रहे हैं।

इनमें भी है निवेश
रतन टाटा ने ऑनलाइन चश्मा स्टोर लेंसकार्ट, किराये पर घर उपलब्ध कराने वाली नेस्ट अवे और पालतू जानवरों की देखभाल वाले ऑनलाइन मंच डॉग स्पॉट, फिटनेस क्षेत्र की क्योरफिट, मौसम की जानकारी देने वाली क्लाइमासेल, ऑनलाइन वाहन मंच कार देखो, ऑनलाइन फर्नीचर कंपनी अरबन लैडर जैसी स्टार्टअप कंपनियों में निवेश किया है। आपको बता दें कि रतन टाटा सारे निवेश अपनी निजी निवेशक कंपनी आरएनटी एसोसिएट्स के जरिये करते हैं। रतन टाटा निवेश करने के लिए कंपनियों का चुनाव अपने विवेक के आधार पर करते हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

ममता की हुंकार : नहीं होने देंगे एनआरसी

सागरदिघी (मुर्शिदाबाद) : राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) को लेकर राजनीतिक बहस बढ़ती ही जा रही है। बुधवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने हुंकार भरते हुए आगे पढ़ें »

डीआरआई का रेड और नोटों की बारिश

कोलकाता : महानगर के डलहौसी इलाके के बेन्टिक स्ट्रीट में बुधवार की दोपहर बाद अचानक एक कामर्शियल बिल्डिंग से नोटों की बारिश होने लगी। घटना आगे पढ़ें »

ऊपर