ये बैंक एफडी पर दे रहे हैं अच्छा रिटर्न

नई दिल्ली : फिक्स्ड डिपॉजिट निवेश का अच्छा और सुरक्षित जरिया है। जो निवेशक म्युचुअल फंड में निवेश से जुड़ा जोखिम नहीं उठाना चाहते, उनके लिए एफडी अच्छा विकल्प है। बैंक वैसे तो ब्या ज दरों में कमी कर रहे हैं, लेकिन कुछ बैंक ऐसे हैं जो अभी भी अधिक जमा दरों की पेशकश कर रहे हैं। सीनियर सिटिजन को भारतीय स्टेअट बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, एचडीएफसी बैंक और एक्सिस बैंक आम नागरिक की तुलना में 0.5 फीसद अधिक ब्या ज की पेशकश कर रहे हैं।

आरबीआई द्वारा रेपो रेट में कटौती के बाद से सभी बैंक जमा दरों में लगातार कटौती कर रहे हैं। इससे फिक्ड्के डिपॉजिट में निवेश करने वाले निवेशकों की कमाई घट सकती है। सीनियर सिटिजन फिक्ड्सभी डिपॉजिट में 7 दिन से लेकर 10 साल तक के लिए निवेश कर सकते हैं। फिक्ड्ि डिपॉजिट से निवेशक मैच्योमरिटी से पहले भी निकासी कर सकते हैं।

आईडीएफसी फर्स्ट बैंक अभी 1 साल से 10 साल तक के फिक्ड्े ल डिपॉजिट पर सीनियर सिटिजन को 4.5 फीसद से 8.50 फीसद की जमा दर की पेशकश कर रहा है। यह दरें 21 अगस्तस से लागू है। एक से दो साल के फिक्ड्करड डिपॉजिट पर बैंक 8.50 फीसद ब्यासज दे रहा है। डीसीबी बैंक फिक्ड्डि डिपॉजिट पर बचत खाते की तुलना में ज्या दा ब्यांज दे रहा है। वरिष्ठी नागरिकों के लिए यह बैंक 5.90 फीसद से 8.50 फीसद तक की जमा दरों की पेशकश कर रहा है। 3 साल के फिक्ड्से डिपॉजिट पर डीसीबी बैंक सबसे अधिक, 8.50 फीसद का ब्या3ज दे रहा है।
बड़े बैंकों की तुलना में स्मॉाल फाइनेंस बैंक बचत खाते और फिक्ड् डिपॉजिट पर अधिक ब्यालज देते हैं। एयू स्मॉसल फाइनेंस सीनियर सिटिजन के लिए 15 महीना एक दिन से लेकर डेढ़ साल के फिक्ड्य डिपॉजिट पर सबसे अधिक 8.60 फीसद ब्याडज की पेशकश कर रहा है। दो साल एक दिन से लेकर तीन साल तक के लिए एयू स्मॉेल फाइनेंस बैंक 8.50 फीसद ब्याकज की पेशकश कर रहा है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

doodle

गूगल ने आज का डूडल जोसेफ प्लेत्यू को किया समर्पित, इनकी वजह से देख पा रहे फिल्में

नयी दिल्ली : गूगल ने आज यानि सोमवार को फेनाकिस्टिस्कोप के आविष्कारक बेल्जियन भौतिकशास्‍त्री एंतोनी जोसेफ फर्दिनांद प्लेत्यू की 218वी सालगिरह पर उनके सम्मान में आगे पढ़ें »

PM Modi

पीएम मोदी के इंस्टाग्राम पर 3 कराेड़ फॉलोअर,ट्रंप और ओबामा को पछाड़ा

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोेकप्रियता और शोहरत दिन प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है। मोदी सोशल मीडिया पर काफी छाए रहते है आगे पढ़ें »

ऊपर