भारत से व्यापर संबंध तोड़ने के बाद पाक में जीवनरक्षक दवाओं की किल्लत

नई दिल्ली : भारत के साथ व्यापार संबंध तोड़ने के फैसले के बाद यहां कई समानों की किल्लत होने लगी है। एक रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान में जीवनरक्षक दवाओं और अन्य जरूरी चीजों की कमी होने लगी है। पाक के अखबार डॉन के अनुसार, उद्योग संगठन एम्पलायर्स फेडरेशन ऑफ पाकिस्तान (ईएफपी) ने कहा की है कि भारत से कच्चा माल या तैयार उत्पाद के रूप में आयातित जीवनरक्षक दवाएं बाजार से जल्द समाप्त हो सकती हैं। ऐसे में वैकल्पिक स्रोत की व्यवस्था नहीं होने तक आयात में ढील दी जाए।

आपको बता दें कि जम्मू कश्मीर का विशेष राज्य का दर्जा समाप्त किए जाने के बाद पाकिस्तान ने भारत के साथ व्यापार संबंध तोड़ लिया है। ईएफपी ने एयरपोर्ट या बंदरगाहों पर पहुंच चुके भारतीय वस्तुओं को बाजार में बिकने की छूट देने की भी अपील की। उसने कहा कि जो उत्पाद पहले ही एयरपोर्ट और बंदरगाहों पर पहुंच चुके हैं, उन्हें स्थानीय बाजारों में बिकने दिया जाना चाहिए।

ईएफपी के उपाध्यक्ष जाकी अहमद खान ने कहा है कि जीवनरक्षक दवाएं बनाने के लिए पाकिस्तान की दवा कंपनियों ने भारत से जिन सक्रिय औषधीय अवयवों का आयात किया है, उनका इस्तेमाल करने की छूट दी जानी चाहिए।

शेयर करें

मुख्य समाचार

वेस्टइंडीज जीत के करीब, इंग्लैंड ने दूसरी पारी में 313 रन बनाए

साउथैम्पटन : इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट में वेस्टइंडीज जीत की ओर है। मैच के पांचवें दिन टी ब्रेक तक मेहमान टीम ने 4 विकेट के आगे पढ़ें »

पगबाधा का फैसला सिर्फ और सिर्फ डीआरएस से हो : तेंदुलकर

नयी दिल्ली : महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने अंपायरों के फैसलों की समीक्षा प्रणाली (डीआरएस) से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) को ‘अंपायर्स कॉल’ को हटाने आगे पढ़ें »

ऊपर