भारत को बेहतर विकल्प के तौर पर देख रहीं हैं अमेरिकी कंपनियां : विशेषज्ञ

वाशिंगटन : अमेरिका और चीन के बीच व्यापार युद्ध थमता नजर नहीं आ रहा है। इसको देखते हुए अब अमेरिकी कंपनियां भारत को एक बेहतर विकल्प के तौर पर देख रही हैं। विशेषज्ञों का यह कहना है अमेरिकी कंपनियों को उम्मीद है कि भारतीय सत्ता में आने वाली नई सरकार पारदर्शिता और नीतियों को तैयार करने में उनके साथ विचार विमर्श के साथ काम करेगी।
अमेरिकी कंपनियों की नजर चुनाव परिणामों पर
अमेरिकी कंपनियों की नजर भारत में 23 मई को आने वाले चुनाव परिणामों पर है। इस संबंध में अमेरिका-भारत रणनीतिक और भागीदारी मंच के अध्यक्ष मुकेश अघी ने कहा कि ‘‘नीति रूपरेखा तैयार करने में अमेरिकी कंपनियां पारदर्शिता के साथ-साथ बेहतर सांमजस्य चाहती हैं। नीतियों को तैयार करने में यदि विचार विमर्श की प्रक्रिया अपनाई जाये तो उन्हें अच्छा लगेगा।’’
भारत में निवेश बढ़ाने पर विचार
अघी ने कहा कि भारत के समक्ष इस समय अमेरिकी और यूरोपीय कंपनियों को निवेश के लिये आकर्षित करने के शानदार अवसर मौजूद हैं, क्योंकि इस समय चीन के उसके व्यापारिक भागीदारों के साथ संबंध तनावपूर्ण चल रहे हैं। उन्होंने ने एक सवाल के जवाब में कहा कि नीतियों और नियमों में सुनिश्चितता और कारोबार करने की स्थिति में सुगमता बढ़ने से अमेरिकी और यूरोपीय कंपनियां भारत में निवेश बढ़ाने पर विचार कर सकती हैं अन्यथा ये कंपनियां वियतनाम और कंबोडिया जैसे देशों की तरफ आकर्षित होंगी।
भारत को आर्थिक सुस्ती से निपटना होगा
वहीं विदेश संबंध परिषद की अलेसा अयरिस ने कहा कि नई सरकार को यह देखना होगा कि आर्थिक वृद्धि को तेज करने और रोजगार के अवसर बढ़ाने के लिये क्या किया जाना चाहिये। भारत को उसकी दिख रही आर्थिक सुस्ती से भी निपटना होगा। वाशिंगटन डीसी स्थित सेंटर फाॅर ग्लोबल डेवलपमेंट के नीति मामलों के विशेषज्ञ अनित मुखर्जी ने कहा कि अंतिम चुनाव परिणाम आने अभी बाकी है। ये परिणाम चौंकाने वाले भी हो सकते हैं, लेकिन उनका मानना है कि जो भी दल सत्ता में आयेगा उसके समक्ष मोटे तौर पर पिछले पांच साल में जो कुछ हासिल हुआ है, उसका समेकन करना होगा और गरीबी कम करने, आर्थिक वृद्धि को तेज करने के लिये जरूरी सुधारों को आगे बढ़ाने की चुनौती होगी।

मुख्य समाचार

ताहिर ने अकेले दम पर हमें मजबूत टीम बना दिया: डु प्लेसिस

कार्डिफ: विश्व कप 2019 का मैच जारी है, लगातार सभी टीमें अपना बेहतरीन प्रदर्शन दिखाने की कोशिश में लगी हुई है। इसी कड़ी में अपनी आगे पढ़ें »

Fadnavis_cabinet_image

फडणवीस सरकार का मंत्रिमंडल विस्तार: 13 नए मंत्री शामिल, कांग्रेस छोड़कर आए विखे पाटिल भी मंत्री बने

मुंबई: आगामी महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से पहले सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की स्थिति को मजबूत करने के लिए मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने रविवार को आगे पढ़ें »

मुझे एस्मा लागू करने के लिए बाध्य न करेंःममता

कोलकाताः मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने जूनियर डॉक्टरों को चेताते हुए कहा कि मुझे एस्मा लागू करने पर बाध्य न करें। ममता बनर्जी ने कहा कि आगे पढ़ें »

डोमकल में तृणमूल के 3 कार्यकर्ताओं की हत्या

मुर्शिदाबादः मुर्शिदाबाद के डोमकल में शनिवार की सुबह असामाजिक तत्वों के हमले में तृणमूल के 3 कार्यकर्ताओं की मौत हो गयी। इस हमले में 6 आगे पढ़ें »

सीएम की अपील को डॉक्टरों ने किया खारिज, हड़ताल रहेगी जारी

डीएमई के साथ हुई बैठक भी रही बेनतीजा कोलकाता: एनआरएस मेडिकल कॉलेज व अस्पताल में हड़ताल कर रहे जूनियर डॉक्टरों ने राज्य सचिवालय में बैठक का आगे पढ़ें »

रूस, तुर्की, ईरान के सहयोग के सीरिया में अच्छे परिणाम: पुतिन

दुशाम्बे: रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने शनिवार को कहा कि अस्ताना मसौदे के दायरे में रूस, तुर्की और ईरान के सहयोग से सीरिया में आगे पढ़ें »

चीन ने हॉन्ग कॉन्ग प्रत्यर्पण विधेयक के निलंबन का समर्थन किया

शंघाई: चीन की सरकार ने शनिवार को कहा कि वह चीन को प्रत्यर्पण की अनुमति देने वाले विधेयक को निलंबित करने के हॉन्ग कॉन्ग की आगे पढ़ें »

सायना नेहवाल की बायोपिक के लिए ये अभिनेत्री सीख रही हैं बैडमिंटन खेलना

मुंबईः बॉलीवुड में इन दिनों बायोपिक का दौर है। अब बॉलीवुड अभिनेत्री परिणीति चोपड़ा भी एक बायोपिक में काम करती नजर आएंगी। बताया जा रहा आगे पढ़ें »

ममता ने डॉक्टरों की सभी मांगें मानी, कहा- कोई कार्रवाई भी नहीं होगी

कोलकाता: पश्चिम बंगाल में पांच दिन से हड़ताल पर बैठे जूनियर डॉक्टरों की सभी मांगें स्वीकार कर ली गई है। शनिवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी आगे पढ़ें »

सरकार का लक्ष्य 2024 तक देश की अर्थव्यवस्था को 350 लाख करोड़ रुपये तक ले जाना- मोदी

नई दिल्ली: दूसरी बार सरकार बनाने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को नीति आयोग की 5वीं बैठक की अध्यक्षता की। इस बैठक में आगे पढ़ें »

ऊपर