भारत को आत्मनिर्भर बनाने के लिए वैश्विक स्तर के उद्योगों का गठन किया जाएगा

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को अंतरराष्ट्रीय एमएसएमई दिवस पर चेंबर ऑफ इंडियन माइक्रो स्मॉल एंड मीडियम एंटरप्राइजेज को भेजे एक पत्र में कहा कि देश में मौजूद क्षमता, प्रतिभा, मेधा और उद्यमिता के साथ भारत प्रगति के नए रास्ते पर तेजी से आगे बढ़ने के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए भारत में वैश्विक स्तर के उद्योगों का गठन किया जाएगा और एक मजबूत सप्लाई चेन का निर्माण किया जाएगा। इससे बड़े स्तर पर लोगों को रोजगार मिलेगा। इसमें सीआईएमएसएमई जैसे संगठनों की भूमिका महत्वपूर्ण होगी।

उन्होंने कहा कि सेक्टर की लाखों इकाइयां देश के आर्थिक इंजन की भूमिका निभाती हैं। हमें एमएसएमई सेक्टर और स्टार्टअप पर भरोसा है। इस क्षेत्र को अधिक गतिशील और आकर्षक बनाने के लिए लगातार काम हो रहा है। एमएसएमई की व्यापक परिभाषा बनानेम स्पेशल फंड की व्यवस्था करने और आईबीसी से जुड़े फैसले को लेकर लगातार बदलाव किये जा रहे हैं।  पिछले 6 साल में आत्मनिर्भर निर्भर के निर्माण के लिए नीतियों बनाई गई हैं । खासकर कोरोना संकट से हमने सिखा कि इसे गति दिया जाए। 130 करोड़ जनता ने आत्मनिर्भर भारत का संकल्प लिया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

घर की दो खास दिशाओं में ये 6 चीजें रखने से बढ़ेगी धन-दौलत

कोलकाता : वास्तु के अनुसार, घर की उत्तर और पूर्व-उत्तर दिशा का आर्थिक संपन्नता से सीधा संबंध होता है। इन दोनों दिशाओं में वास्तु दोष आगे पढ़ें »

इस दिशा में सिर रखकर भूलकर भी न सोएं, जानिए किस तरह सोने से मिलेगा लाभ

कोलकाताः अच्छी सेहत के लिए भरपूर नींद लेना जरूरी है। दिनभर थकने के बाद हम रात को सोते समय इस बात का ध्यान नहीं रखते आगे पढ़ें »

ऊपर