भारतीय सांख्यिकी प्रणाली में सुधार के पक्ष में नीति आयोग

नई दिल्ली : नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने भारतीय सांख्यिकी प्रणाली में सुधार और उसे आधुनिक रूप देने की वकालत की है ताकि वास्तविक समय का आंकड़ा प्राप्त हो सके तथा उसका उपयोग नीति विश्लेषण में किया जा सके।  कुमार ने कहा कि आयोग देश की सांख्यिकी प्रणाली को आधुनिक रूप देने के लिये विश्व बैंक के साथ संपर्क में हैं। उन्होंने कहा, ‘एक चीज के बारे में मैं बिल्कुल साफ हूं कि हमारी सांख्यिकी प्रणाली में सुधार, उसे आधुनिक रूप देने तथा दुनिया की सांख्यिकी प्रणाली के समरूप करने की जरूरत है।’

विशेषज्ञ भी बदलाव के लिए सहमत
हाल में आरबीआई के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन और पूर्व मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमणियम समेत कई विशेषज्ञों ने देश के संशोधित आर्थिक वृद्धि दर के आंकड़े को लेकर संदेह जताया है। राजन और सुब्रमणियम दोनों ने कहा था कि जीडीपी आंकड़े को लेकर जो मौजूदा संदेह है, उसे दूर करने की जरूरत है। इसके लिये एक तटस्थ निकाय गठित किया जाना चाहिए जो इस पर गौर करे।

बीमार सरकारी कंपनियों का निजीकरण हो सकता है
एक सवाल के जवाब में राजीव कुमार ने कहा कि खस्ताहाल सरकारी कंपनियों की सूची तैयार की जा रही है। इन सभी का निजीकरण किया जा सकता है। प्रधानमंत्री कार्यालय ने नीति आयोग से खस्ताहाल सरकारी कंपनियों की व्यावहारिकता परखने को कहा था। आयोग पहले ही 34 खस्ताहाल सार्वजनिक कंपनियों के निजीकरण की सलाह केंद्र को दे चुका है। इनमें एयर इंडिया भी शामिल है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

sjayshanker

‘नेपाल-भारत संयुक्त आयोग’ की 5वीं बैठक में शामिल होने नेपाल जाएंगे विदेश मंत्री

काठमांडू : विदेश मंत्री एस जयशंकर ‘नेपाल-भारत संयुक्त आयोग’ की 5वीं बैठक में शामिल होने इस सप्ताह नेपाल जाएंगे। इस बैठक में जयशंकर द्विपक्षीय संबंधों आगे पढ़ें »

dhule

महाराष्ट्र : बस और ट्रक के बीच भीषण टक्कर में 15 की मौत ,कई घायल

धुले : महाराष्ट्र के धुले में एक दर्दनाक हादसा होने का मामला सामने आया है। यहां एक बस और ट्रक के बीच हुए भीषण टक्कर आगे पढ़ें »

ऊपर