भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण ने आधार को बताया सुरक्षित, कहा छेड़छाड़ का पता लगाना संभव

नयी दिल्ली: भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण ने अज्ञात लोगों द्वारा 500 रुपये में आधार की पूरी जानकारी मुहैया कराने की रिपोर्ट को खारिज करते हुए कहा कि उसकी प्रणाली सुरक्षित है और इसके किसी भी दुरुपयोग का पता लगाया जा सकता है। उसने कहा कि उसके पास हर गतिविधि की पूरी जानकारी होती है। प्राधिकरण ने जारी बयान में कहा कि आधार की कोई जानकारी लीक नहीं हुई है। उसने दावा किया, जैविक जानकारियों समेत आधार के डेटा पूरी तरह सुरक्षित हैं। प्राधिकरण का यह बयान ऐसे समय में आया है जब मीडिया रिपोर्टो’ में व्हाट्सऐप के जरिये महज 500 रुपये में आधार की जानकारी मुहैया कराने का खुलासा किया गया था। उसने कहा कि लोगों की मदद तथा उनके दिक्कतों को दूर करने के लिए चुनिंदा कर्मचारियों व राज्यों के अधिकारियों को ही आधार नं की मदद से जानकारी खोजने की सुविधा दी गयी है।

उसने दावा किया, प्राधिकरण हर गतिविधि की जानकारी रखता है और छेड़छाड़ की पहचान करने की क्षमता भी रखता है। हर दुरुपयोग का पता लगाकर उसके खिलाफ कार्वाई की जा सकती है। रिपोर्ट किया गया मामला दिक्कतों की निवारण सुविधा के दुरुपयोग का मामला है।उसने कहा कि उसके पास चूंकि इसका पता लगाने की सुविधा है, उसने संबंधित व्यक्तियों के खिलाफ प्राथमिकी की प्रक्रिया शुरू कर दी है। प्राधिकरण ने कहा कि दिक्कतों की निवारण सुविधा के तहत भी सीमित अधिकार ही दिया जाता है। उसने आगे कहा कि जैविक सूचनाओं के साथ कोई छेड़छाड़ नहीं हुआ है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

ये ड्राईफ्रूट है बेहद फायदेमंद, रोजाना खाने से होंगे ये फायदे

नई दिल्ली : हमारे आस-पास बहुत सारी ऐसी चीजें मौजूद है, जो स्वास्थ के लिए फायदेमंद होती है, लेकिन उनके बारे में हमें सही जानकारी आगे पढ़ें »

murshidabad

5 मिनट में उसने शिक्षक समेत तीनों को उतारा था मौत के घाट !

कोलकाता : मुर्शिदाबाद में तीहरे हत्याकांड की गुत्थी आखिरकार पुलिस ने सुलझा ली है, ऐसा दावा है पुलिस का। इस मामले में पुलिस ने मुख्य आगे पढ़ें »

ऊपर