भारतीय रेल वित्त निगम में हिस्सेदारी बेचकर आईपीओ से 1000 करोड़ रुपये जुटाएगी सरकार

नई दिल्ली : सरकार आईपीओ के जरिए भारतीय रेल वित्त निगम (आईआरएफसी) में 10 फीसदी हिस्सेदारी बेचकर 1,000 करोड़ रुपये जुटाने की योजना बना रही है। प्रक्रिया सितंबर तक पूरी की जाएगी। आईपीओ के लिए आईआरएफसी को सूचीबद्ध की जाएगी, जिसके जरिए 10 फीसदी की बिक्री करके 1,000 करोड़ रुपये जुटाने की योजना है।

भारतीय रेल की वित्तीय शाखा आईआरएफसी रेलवे के विस्तार व परिचालन के लिए पूंजी बाजार से वित्तीय संसाधन व अन्य ऋण जुटाती है। आईआरएफसी मर्चेट बैंकर की नियुक्ति के बाद मसौदा विवरण पत्रिका के लिए भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) से संपर्क करेगी। निवेश एवं सार्वजनिक संपत्ति प्रबंधन विभाग (डीआईपीएएम) आईपीओ के लिए रेलवे की अनुषंगी कंपनी को सूचीबद्ध करने को लेकर आशावान है। दरअसल सार्वजनिक क्षेत्र का उपक्रम होने के कारण सुरक्षित निवेश को लेकर निवेशकों की इसमें दिलचस्पी देखी गई है।

वहीं रेलवे की एक और शाखा राइट्स को भी पिछले महीने आईपीओ में कामयाबी मिली है, ग्राहकों में 67 गुना इजाफा हुआ।
डीआईपीएएम ने वित्त वर्ष के पहले आईपीओ के जरिए रेल विकास निगम से 466 करोड़ रुपये की रकम जुटाई। चालू वित्तवर्ष में 1.05 लाख करोड़ रुपये विनिवेश का लक्ष्य हासिल करने के मद्देनजर इस साल आईपीओ के लिए 10 पीएसयू कतार में हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

bhool bhoolaiya

‘भूल भूलैया 2’ की पहली झलक में बिलकुल अक्षय की तरह नजर आये ये अभिनेता

मुंबई : बॉलीवुड अभिनेता कार्तिक आर्यन ने फिल्‍म 'सोनू के टीटू की स्वीटी' के बाद बहुत ही कम समय में अपनी एक खास पहचान बना आगे पढ़ें »

jaitly

अरुण जेटली की हालत नाजुक, आडवाणी सहित कई नेता पहुंचे एम्स

नई दिल्ली : पूर्व वित्त मंत्री अरूण जेटली की हालत काफी नाजुक बताई जा रही है। उनकी सेहत की जानकारी लेने के लिए भाजपा के आगे पढ़ें »

ऊपर