भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए बुरी खबर, आने वाले समय में बढ़ेगी सुस्ती : मूडीज

नई दिल्ली : क्रेडिट रेटिंग एजेंसी मूडीज ने कहा है कि भारतीय अर्थव्यवस्था को लेकर बुरी खबर दी है। मूडीज इन्वेस्टर्स सर्विस ने बीएए 2 रेटिंग की पुष्टि की है और कहा है कि इकोनॉमी में सुस्ती का जोखिम बढ़ता जा रहा है।

मूडीज ने कहा है कि आर्थिक विकास पहले की तुलना में कम रहेगा और भविष्य में लंबे समय तक आर्थिक मंदी की समस्या बनी रहेगी और कर्ज बढ़ेगा। भारत की रेटिंग में यह गिरावट रेटिंग एजेंसियों द्वारा भारतीय अर्थव्यवस्था की ग्रोथ के अनुमान में कमी करने के बाद आई है।
आपको बता दें कि वर्तमान में भारतीय अर्थव्यवस्था कमजोर डिमांड के कारण बुरे दौर से गुजर रही है, हालाँकि सरकार का अभी भी कहना है कि भारत दुनिया में तेजी से विकास कर रही बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में शामिल है।

आपको बता दें कि मोदी सरकार का लक्ष्य साल 2025 तक भारत की अर्थव्यवस्था को 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाना है, जबकि दूसरी तरफ रेटिंग एजेंसियां भारत के लिए जीडीपी ग्रोथ अनुमान को लगातार कम कर रही हैं, जो कि चिंता की बात है।

यहां बता दें कि पिछले महीने रेटिंग एजेंसी मूडीज ने भारत के लिए वित्त वर्ष 2019-20 की ग्रोथ रेट के अनुमान को घटाकर 5.8 फीसद कर दिया है जो कि इससे पहले यह 6.2 फीसद था। एजेंसी ने वित्त वर्ष 2020-21 के लिए ग्रोथ रेट का अनुमान 6.6 फीसद बताया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

वेस्टइंडीज जीत के करीब, इंग्लैंड ने दूसरी पारी में 313 रन बनाए

साउथैम्पटन : इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट में वेस्टइंडीज जीत की ओर है। मैच के पांचवें दिन टी ब्रेक तक मेहमान टीम ने 4 विकेट के आगे पढ़ें »

पगबाधा का फैसला सिर्फ और सिर्फ डीआरएस से हो : तेंदुलकर

नयी दिल्ली : महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने अंपायरों के फैसलों की समीक्षा प्रणाली (डीआरएस) से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) को ‘अंपायर्स कॉल’ को हटाने आगे पढ़ें »

ऊपर