बंगाल में फायर लाइसेंस ऑनलाइन

कोलकाताः राज्य में व्यापार सुगमता लाने के लिए पश्चिम बंगाल सरकार ने ऑनलाइन फायर लाइसेंस सुविधा पेश की है ताकि औद्योगिक इकाइयों को फायर लाइसेंस प्राप्त करने में कम से कम समय लगे। यह बात मंगलवार को सीआईआई द्वारा आयोजित 11वें सेफ्टी सिम्पोजियम एंड एक्सपोजिशन नामक कार्यक्रम के दौरान फायर एंड इमरजेंसी सर्विसेज और पर्यावरण विभाग के राज्य के प्रमुख सचिव अर्नब राॅय ने कही। इससे फायर लाइसेंस प्राप्त करने के लिए कम समय लगने के साथ ही राज्य में स्थापित होने वाली नई इकाइयों को भी इससे संबंधित बाधाओं को दूर किया जा सकेगा। कार्यक्रम के दौरान सीआईआई ने लीडरशिप चैलेंज इन मैनेजिंग कॉन्ट्रैक्टर इंड्युसड रिस्क एट वर्कप्लेस नामक रिपोर्ट की पेशकश की। रिपोर्ट के मुताबिक 16% से अधिक कंपनियों ने सुरक्षा मानकों और अनुपालन में 80% अंक अर्जित किए हैं। नेतृत्व की गुणवत्ता के मामले में 21% कंपनियों ने 80% से अधिक अंक हासिल किए हैं।
होगा फुलप्रूफ मेकेनिज्म
राज्य सरकार आग लगने से रोकथाम के लिए अत्यधिक राशी का निवेश करने के साथ ही एक तंत्र विकसित करने का भी प्रयास कर रही है जो यह सुनिश्चित करेगी कि एक फुलप्रूफ मेकेनिज्म काम कर रहा है या नहीं। कोलकाता में आने वाली अधिक से अधिक ऊंची इमारतों के लिए पश्चिम बंगाल सरकार ने चार हाइड्रोलिक सीढ़ी खरीदे हैं, जिनमें से सबसे ऊंची 66 मीटर की है। टाटा स्टील लिमिटेड के प्रबंध निदेशक के सलाहकार एंड्रयू पेज ने कहा कि कोलकाता के लोगों में सुरक्षा को लेकर काफी सतर्कता है। यहां के लोग ट्रैफिक सिग्नल मानकर चलते हैं। सीआईआई पूर्वी क्षेत्र सेफ्टी टास्क फोर्स के अध्यक्ष और टेक्समैको रेल एंड इंजीनियरिंग लिमिटेड के कार्यकारी निदेशक और सीईओ, संदीप फुलर के मुताबिक सीआईआई का मानना ​​है कि किसी संगठन में फुलप्रूफ मेकेनिज्म प्रभावी नेतृत्व, दृष्टि और शासन का परिणाम है। कार्यक्रम के दौरान सीआईआई पूर्वी क्षेत्र सेफ्टी टास्क फोर्स एंड चीफ, सेफ्टी (इंडिया एंड एसईए), टाटा स्टील लिमिटेड के सह-अध्यक्ष विलास गायकवाड़ ने कहा कि दुर्घटनाओं की रोकथाम की लागत दुर्घटनाओं से होने वाली लागत और इसके साथ-साथ चिकित्सा व्यय से बहुत कम है।
फायर एंड सेफ्टी ऑडिट
टाटा कंपनी अपने वर्कशॉप और कर्मचारियों के लिए अधिकतम सुरक्षा सुनिश्चित करने के मद्देनजर फायर एंड सेफ्टी के ऊपर ऑडिट कर रहा है। इसके लिए कंपनी ने हाल ही में 500 करोड़ रुपये का निवेश किया है और आने वाले पांच वर्षों के दौरान इसे 25000 करोड़ रुपये तक बढ़ाने का अनुमान है। टाटा कंपनी भारत की पहली ऐसी कंपनी है जो फायर एंड सेफ्टी ऑडिट कर रही है।

Leave a Comment

अन्य समाचार

दीघा के होटल में युवक का फंदे से लटका शव बरामद

दीघा : दीघा स्थित एक होटल में कोलकाता के एक युवक का फंदे से लटकता शव बरामद किया गया। पुलिस का अनुमान है कि उसने फांसी लगाकर आत्महत्या की है। मृतक की पहचान शुभंकर बनर्जी (25) के रूप [Read more...]

रघुनाथगंज में अवैध हथियारों के साथ आर्म्स कारोबारी गिरफ्तार

दो वन शटर पिस्टल समेत दो जिंदा कारतूस बरामदमुर्शिदाबादः खुफिया सूत्रों से मिली जानकारी के बाद रघुनाथगंज थाना पुलिस ने अवैध हथियारों के साथ आर्म्स कारोबारी को गिरफ्तार किया। गिरफ्तार कारोबारी का नाम गुलाब शेख(28) है। बुधवार [Read more...]

मुख्य समाचार

दीघा के होटल में युवक का फंदे से लटका शव बरामद

दीघा : दीघा स्थित एक होटल में कोलकाता के एक युवक का फंदे से लटकता शव बरामद किया गया। पुलिस का अनुमान है कि उसने फांसी लगाकर आत्महत्या की है। मृतक की पहचान शुभंकर बनर्जी (25) के रूप [Read more...]

रघुनाथगंज में अवैध हथियारों के साथ आर्म्स कारोबारी गिरफ्तार

दो वन शटर पिस्टल समेत दो जिंदा कारतूस बरामदमुर्शिदाबादः खुफिया सूत्रों से मिली जानकारी के बाद रघुनाथगंज थाना पुलिस ने अवैध हथियारों के साथ आर्म्स कारोबारी को गिरफ्तार किया। गिरफ्तार कारोबारी का नाम गुलाब शेख(28) है। बुधवार [Read more...]

ऊपर