शिक्षा क्षेत्र को बढ़ावा देगी सरकारः प्रभु

Fallback Image

नयी दिल्लीः वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु ने कहा कि सरकार देश की अर्थव्यवस्था में सेवा क्षेत्र की हिस्सेदारी बढ़ाने के लिये शिक्षा क्षेत्र की वृद्धि को बढ़ावा देने को लेकर काम करेगी। उच्च शिक्षा पर आयोजित सम्मेलन में प्रभु ने कहा, ‘हम अर्थव्यवस्था में क्षेत्र की हिस्सेदारी बढ़ाना चाहते हैं और इसमें शिक्षा महत्वपूर्ण क्षेत्र है। हम इसे बढ़ावा देंगे।’ उन्होंने कहा कि सरकार इस संदर्भ में विभिन्न विश्वविद्यालयों और संस्थानों के साथ मिलकर काम कर रही है।
चुनौतियों को दिमाग में रखना होगा

प्रभु ने कहा कि शिक्षण संस्थानों को उन उभरती चुनौतियों को दिमाग में रखना है जिसका सामना उद्योग कर रहा है और कृत्रिम मेधा, रोबोटिक्स तथा बिग डेटा जैसी अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी पेश करनी चाहिए।

जीडीपी में हिस्सा

देश के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में सेवा क्षेत्र का योगदान फिलहाल करीब दो तिहाई है। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 12 प्रमुख सेवा क्षेत्रों पर विशेष ध्यान देने का निर्णय किया था। साथ ही नोडल मंत्रालयों तथा विभागों को अलग से बनाये गये 5,000 करोड़ रुपये के कोष के तहत क्षेत्र केंद्रित योजनाएं बनाने को कहा था। बारह प्रमुख सेवा क्षेत्रों में आईटी, पर्यटन तथा होटल, परिवहन, एकाउंटिंग, विधि, शिक्षा तथा पर्यावरण शामिल हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

rajeev-kumar

राजीव पर शिकंजा कसने आ रहे हैं ‘स्पेशल 12’

सप्ताह भर के अंदर कार्रवाई होगी पूरी : सीबीआई सूत्र अलीपुर कोर्ट में कैविएट दायर किया राजीव कुमार ने सीबीआई जारी करा सकती है वारंट सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : आगे पढ़ें »

मोदी से मिलीं ममता, बंगाल से जुड़े मसले पर हुई चर्चा

पीएम को बंगाल आने का दिया न्योता राज्य के नामकरण को लेकर हुई चर्चा एनआरसी के मुद्दे पर नहीं हुई बात सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता/नई दिल्ली : मुख्यमंत्री ममता बनर्जी आगे पढ़ें »

ऊपर