प्रदूषण से बचाएंगे आपको ये घरेलू उपाय

नई दिल्ली : एयर पॉल्यू्शन का स्वास्थ पर असर होने के साथ ही मनोवैज्ञानिक प्रभाव भी पड़ता है। नई दिल्ली के इन्द्रप्रस्थ अपोलो हॉस्पिटल्स के सीनियर पल्मोनोलिज्स्ट डॉक्ट र राजेश चावला ने बताया कि एयर पॉल्यूाशन के हानिकारक प्रभाव हैं और इनसे बचने के कई घरेलू उपाय हैं।

क्या है स्वास्थ पर असर
एयर पॉल्यूशन के कारण सांस सांस संबंधी बीमारियां जैसे सीओपीडी उग्र हो जाती है। एयर पॉल्यूशन के कारण ब्रोन्कियल अस्थमा भी बिगड़ जाता है। इसके अलावा, इससे थकान, सिरदर्द और चिंता, आंखों, नाक, गले में जलन, नर्वस सिस्टअम को नुकसान पहुंचना, कार्डियोवैस्कुलर सिस्टम पर बुरा असर पड़ता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट के अनुसार हर साल 70 लाख लोगों की मृत्यु प्रदूषित हवा के कारण होती है। सर्दियों का मौसम फिर से आ रहा है, ऐसे में आने वाले दिनों में हवा में नमी कम होने और खेतों में भूसा जलाने के कारण, सर्दियों में पॉल्यूपशन हाई लेवल पर पहुंच जाता है। पिछले 30 सालों में एयर पॉल्यूरशन के कारण हेल्थद पर कई घातक प्रभाव पाए गए हैं। इनमें सांस की बीमारियां जैसे अस्थमा और फेफड़ों की समस्याएं, कार्डियोवेस्कुलर रोग, प्रेग्नेंकसी पर बुरा असर जैसे समय से पहले डिलीवरी आदि देखने को मिलते है। ऐसे में कुछ घरेलू उपायों को अपनाकर आप इससे आसानी से बच सकती हैं।

घर में सही हो वेंटीलेशन
कभी कभार घर की खिड़कियां खोलें, ताकि घर में हवा का आवागमन ठीक बना रहे। छोटे-छोटे उपायों से घर में पॉल्यूाशन को कंट्रोल में रख सकती हैं और इससे घर में ताजा हवा आती रहती है।

घर में लगाएं एयर प्यूरीफाइंग पौधे
घर के अंदर हवा को कंट्रोल में रखने के लिए नेचुरल पौधे जैसे एलोवेरा, आईवी, मनीप्लांट, सेनसेवियरा और स्पाइडर प्लांट लगाएं। ये हवा साफ करते हैं और घर में केमिकल फ्रेशनर, क्लीनर, मोमबत्ती, धूम्रपान आदि का इस्तेमाल न करें।

मास्क पहनें
ज्यादा एयर पॉल्यूशन हो तो मास्क का इस्ते माल करें। मास्क ऐसा हो, जो चेहरे पर फिट हो जाए और पहनना आरामदायक हो, ताकि आप लंबे समय तक इसे पहने रख सकें। देखें कि मास्क और त्वचा के बीच अंतर न हो ताकि प्रदूषित हवा सांस के साथ भीतर न जा सके।

डायट हो विटामिन सी से भरपूर
अपनी डाइट में विटामिन सी, मैग्नीशियम, ओमेगा फैटी एसिड का सेवन करें और पोषक तत्व आपकी बॉडी की इम्यूडनिटी को बढ़ाते हैं, इससे आप बीमा‍रियों से बची रह सकती हैं और आपको प्रदूषण के घातक प्रभावों से सुरक्षित रखते हैं।

एक्सरसाइज करते समय रखें ध्यान
एक्स रसाइज जैसे साइकिलिंग और जॉगिंग करने से बचें और खासतौर पर सुबह और शाम के समय एयर पॉल्यूेशन का लेवल बहुत ज्यादा होता है, उस समय बाहर न जाएं। घर के अंदर ही एक्सहरसाइज या जिम करें। बच्चों के लिए भी आउटडोर एक्टिविटी सीमित कर दें।

गुड़ का करें सेवन
गुड़ आपको एयर पॉल्यू शन के हानिकारक प्रभावों से बचाता है, यह प्राकृतिक क्लीजिंग एजेन्ट है, जो बॉडी से टॉक्सिन्स निकालने में हेल्पक करता है।

पानी पीएं
पानी पीने से शरीर साफ़ हो जाता है। रेगुलर चाय के बजाए हर्बल चाय, अदरक या तुलसी की चाय पीएं, यह टॉक्सिन्स निकालने में हेल्पा करती है। साथ ही व्यस्त स्थानों, भीड़भाड़ भरे इलाकों में जाने से बचें। अगर सांस लेने में तकलीफ हो, बहुत ज्यादा खांसी हो तो तुरंत डॉक्टर की सलाह लें।

शेयर करें

मुख्य समाचार

पीसीबी को नहीं मिल रहा कोई प्रायोजक

कराची : कोरोना वायरस महामारी के आर्थिक दुष्प्रभावों का सामना पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को भी करना पड़ रहा है जिसे इंग्लैंड में मौजूद राष्ट्रीय टीम आगे पढ़ें »

लगातार सातवीं जीत से रीयाल मैड्रिड ला लिगा खिताब के करीब

मैड्रिड : सर्गियो रामोस के दूसरे हाफ में पेनल्टी पर किये गये गोल की मदद से रीयाल मैड्रिड ने एथलेटिक बिलबाओ को 1-0 से हराकर आगे पढ़ें »

कड़ी मेहनत के बदौलत तेज गेंदबाजी में मजबूत हुआ भारत : गांगुली

टी20 विश्व कप का टलना तय, ऑस्ट्रेलियाई टीम को इंग्लैंड सीरीज के लिये कहा गया

यूएई और श्रीलंका के बाद अब न्यूजीलैंड ने आईपीएल की मेजबानी का ऑफर दिया

गृहमंत्रालय ने कॉलेज और प्रोफेशनल संस्थानों को फाइनल ईयर की परीक्षा कराने को दी मंजूरी

बंगाल में कोरोना का कहर जारी आज फिर आये 800 के पार मामले, 22 की हुई मौत

डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी के सपनों का बंगाल बनाना, उन्हें होगी सच्ची श्रद्धांजलि : राज्यपाल धनखड़

कोलकाता के नजदीक सौर पेड़ से रौशन होंगी पगडंडियां, पार्क

बंगाल में बने ऐप को ममता ने किया पेश कहा – यह देशभक्ति की पहचान

ऊपर