पेटीएम इस मामले में बनी नंबर वन

नई दिल्ली : डिजिटल भुगतान सुविधा मुहैया कराने वाली कंपनी पेटीएम ‘लोन ईएमआई, क्रेडिट कार्ड बिल, और बीमा प्रीमियम’ के भुगतान की सुविधा शुरू करने के एक साल में ही अपनी पकड़ मजबूत बना ली है। कंपनी बीएफएसआई भुगतान में सभी मोबाइल पेमेंट ऐप्स से आगे बढ़ गई है और 70 फीसदी बाजार हिस्सेदारी हासिल कर चुकी है।

कंपनी ने जानकारी दी है कि तेजी से बीमा और बैंकिंग क्षेत्र के भागीदारों को अपने प्लेटफॉर्म पर जोड़ रही है, जिससे ऐसे भुगतानों का सिंगल प्लेटफॉर्म बन जाए। कंपनी ने 30 प्रमुख बीमा कंपनियों और 45 से ज्यादा वित्तीय कंपनियों से साझेदारी की है, जिसमें देश की सभी प्रमुख बीमा और वित्तीय कंपनियां शामिल है, जिसमें एलआईसी, एचडीएफसी लाइफ, आईसीआईसीआई प्रुडेंशियल, एसबीआई जनरल इंश्योरेंस, हीरो फिनकॉर्प, मूथूट फाइनेंस, इंडियाबुल्स, एल एंड टी फाइनेंस, पीएनबी, समेत अन्य हैं।

पेटीएम बैंकों, वित्तीय सेवाओं, और बीमा (बीएफएसआई) भुगतानों के लिए इकलौता सबसे बड़ा प्लेटफॉर्म है, जिस पर लॉन्च के बाद से एक साल में 5 करोड़ से ज्यादा लेन-देन किए गए हैं। इससे लाखों उपभोक्ता चेक से भुगतान करने या बैंक से भुगतान करने की बजाय पेटीएम से भुगतान कर रहे हैं।

पेटीएम रसीद का इस्तेमाल इनकम की घोषणा या भुगतान का रिकॉर्ड रखने के लिए की जा सकती है, जिसे कभी भी ऐप में आसानी से देखा जा सकता है। पेटीएम के वरिष्ठ उपाध्यक्ष दीपक एब्बोट ने कहा कि बीएफएसआई भुगतानों में सुविधा के लिए विभिन्न सेवा प्रदाताओं से भागीदारी की है। माह-दर-माह वृद्धि दर हासिल कर रहे हैं। हम छोटे शहरों और कस्बों तक पहुंचना सुनिश्चित कर रहे हैं, ताकि वहां के लोग भी डिजिटल एप पर इस प्रकार के भुगतान करना सीख सकें और कर सकें।

शेयर करें

मुख्य समाचार

अमेरिका का बजट घाटा एक हजार अरब डॉलर के पार !

बजट कार्यालय ने व्यक्त किया अनुमान वाशिंगटनः अगले वित्त वर्ष में अमेरिका का बजट घाटा एक हजार अरब डॉलर के पार जाने की आशंका है। यह आगे पढ़ें »

new zealand speaker

न्यूजीलैंड : संसद में रो रहे बच्चे को स्पीकर ने पियाला दूध, लोगों ने की सराहना

वेलिंगटन : न्यूजीलैंड के संसद भवन में स्पीकर ट्रेवर मलार्ड ने एक सांसद के बेटे को दूध पिलाया। मालूम हो कि संसद भवन में आमतौर आगे पढ़ें »

ऊपर