पश्चिम रेलवे ने महिला यात्रियों की सुरक्षा के लिए उठाया यह कदम

नई दिल्ली : महिला रेल यात्रियों के लिए पश्चिम रेलवे ने लोकल ट्रेनों में 72 फस्ट क्लास महिला डिब्बों में टॉक बैक बटन की सुविधा उपलब्ध कराई है। इस सुविधा के तहत महिला यात्री किसी मुश्किल स्थिति में ट्रेन के गार्ड और मोटरमैन से टॉक बटन के जरिये तुरंत बात कर सकती हैं। पश्चिम रेलवे की ओर से 70 फीसदी महिला डिब्बों में यह सुविधा दी जा चुकी है।

इस सुविधा को दुरुपयोग से बचाने के लिए गार्ड व मोटरमैन से जो भी संवाद होगा वो रिकॉर्ड किया जाएगा। वहीं किसी दुर्घटना की स्थिति में इस बातचीत को सबूत के तौर पर भी पेश किया जाएगा। रेलवे की ओर से वर्ष 2016 में पहली बार महिला डिब्बों में टॉक बैक बटन की सुविधा पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर उपलब्ध कराई थी। इसके बाद सितम्बर 2018 के बाद कई ट्रेनों में यह सुविधा उपलब्ध करा दी गई। ट्रेनों में यह सुविधा उपलब्ध कराने के लिए रेलवे को अब तक लगभग 08 करोड़ रुपये खर्च करने पड़े हैं।

टॉक बटन का प्रयोग करते समय जहां महिला यात्री व मोटरमैन या गार्ड से होने वाली बातचीत को रिकॉर्ड किया जा रहा है, वहीं सीसीटीवी कैमरों की मदद से इस बटन पर नजर रखी जाती है। ताकि यदि कोई यात्री इस सुविधा का दुरुपयोग करता है तो उसे पकड़ा जा सके।

शेयर करें

मुख्य समाचार

diabetes-day-image

ऐसी जीवनशैली अपनाएंगे तो नहीं होगी डायबिटीज

मधुमेह के लक्षण, इलाज और घरेलू उपचार हमारी बिगड़ती जीवनशैली के कारण हमारा शरीर कई बीमारियों का घर बन गया है। इन्हीं बीमारियों में से एक आगे पढ़ें »

डेहरी ऑन सोन : बोलेरो और गैस टैंकर की टक्कर में दो की मौत, पांच गंभीर

डेहरी ऑन सोन : बिहार में रोहतास जिले के डेहरी के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी संजय कुमार ने बुधवार को यहां बताया कि स्थानीय सूअरा मोड़ आगे पढ़ें »

ऊपर