नए बाजारों तक पहुंच बढ़ाने और विकास को तेज करने के विए वॉलमार्ट ने एमसएमईज को मजबूत बनाया

नई दिल्ली : वॉलमार्ट ने वैश्विक सप्लाई चेन से जोड़ने के लिए मेक इन इंडिया के तहत भारत के 50,000 छोटे व्यापारियों को प्रशिक्षण देने और तैयार करने के लिए वॉलमार्ट वृद्धि सप्लायर डेवलपमेंट प्रोग्राम (वॉलमार्ट वृद्धि) की घोषणा की है। वॉलमार्ट वृद्धि वैश्विक अर्थव्यवस्था में हिस्सा लेने और अपनी घरेलू क्षमता को बढ़ाने के लिए भारत के सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यमों (एमएसएमईज) के साथ सक्रिय रूप से काम करेगा।

वॉलमार्ट वृद्धि उन सप्लायर्स की आवश्यकता के अनुसार साधन उपलब्ध कराएगा, जिनके पास बढ़ने की इच्छा और क्षमता है। अगले पांच सालों में एमएसएमई को इस प्रोग्राम की अनोखी विशेषता वाले व्यक्तिगत प्रशिक्षण, विशेषज्ञ सलाह के साथ साथ वॉलमार्ट की गहरी वैश्विक अनुभवों का लाभ प्रदान किया जाएगा। इसके साथ-साथ वॉलमार्ट स्थानीय उद्यमी समुदायों को नेटवर्क और मेंटर भी उपलब्ध कराएगा। इसमें भाग लेने वालों को ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह की वृद्धि के लिए साधन उपलब्ध कराएगा, जिससे उन्हें वॉलमार्ट ग्लोबल सोर्सिंग, वॉलमार्ट इंडिया, फ्लिपकार्ट की सप्लाई चेन के साथ साथ घरेलू एवं अंतरराष्ट्रीय कंपनियों के सप्लाई चेन का हिस्सा बनने की क्षमता विकसित करने मेंसहायता मिलेगी।

वॉलमार्ट इंटरनेशनल के प्रेसीडेंट और चीफ एग्जिक्यूटिव ऑफिसर जुडिथ मैकेना ने कहा कि वृद्धि प्रोग्राम भारतीय सप्लायर को वॉलमार्ट एंव फ्लिपकार्ट सहित पूरी दुनिया के ऑनलाइन एवं ऑफलाइन ग्राहकों के लिए सेवा उपलब्ध कराने के लिए प्रोत्साहित करेगा। यही खुलापन हमें अनोखा बनाता है और इसमें भाग लेने वाले लोगों के लिए वास्तविक अवसर पैदा करता है। अगर सप्लायर्स की महात्वाकांक्षा घरेलू बाजार या फिर पूरी दुनिया के बाजार में काम करने का है, तो वॉलमार्ट वृद्धि उन्हें वे सारे साधन उपलब्ध कराएगा, जिसकी उन्हें आवश्यकता होगी।
नया प्रोग्राम सप्लायर डेवलपमेंट कम्यूनिटी के नेटवर्क के साथ संपर्क करेगा, जो वॉलमार्ट एवं फ्लिपकार्ट के पास भारत में पहले से ही मौजूद है। इसके साथ-साथ यह एमएसएमईज को नए बाजारों में निर्यात करने के लिए एमएसएमई प्रशिक्षण के वर्तमान प्रोग्राम को बढ़ाएगा और इसका विस्तार करेगा। वॉलमार्ट का मानना है कि स्थानीय स्पलायर्स को भारत एवं दुनिया भर के व्यापक सप्लाई चेन का हिस्सा बनने में मदद करने से भारत के एमएसएमई क्षेत्र के लिए घरेलू नौकरियां और निरंतर वृद्धि पैदा होगी। इसके साथ ही दुनिया के किसी हिस्से से खरीददारी करने वाले ग्राहक भारत से गुणवत्ता वाले सामानों का उपयोग करने में सक्षम होंगे।

वॉलमार्ट कैटलिस्ट समूह का एक हिस्सा बेंगलोर स्थित संस्था स्वास्ति एवं यूनिवर्सिटी पार्टनर के साथ पूरे भारत के 25 वॉलमार्ट वृद्धि संस्थाओं में जिन जगहों पर भारत के एमएसएमई काम कर रहे हैं, उन जगहों पर पहुंच बनाकर उन्हें उच्च गुणवत्ता वाली शिक्षा प्रदान करके और उन्हें प्रशिक्षण देगा। अगले पांच सालों में पूरे भारत में एमएसएमई के लिए सुविधाजनक स्थानों पर उद्योग एवं उत्पाद विविध श्रेणी से संबंधित संस्थाएं खोली जाएंगी। क्षमता विकास वॉलमार्ट वृद्धि का महत्वपूर्ण स्तंभ है। बढ़ने की इच्छा रखने वाले एमएसएमई को पूरे भारत के विभिन्न स्थानों पर स्थानीय वॉलमार्ट वृद्धि संस्थान में वैश्विक स्तर का प्रशिक्षण एवं सलाह दी जाएगी। प्रशिक्षण एवं बेहतरीन अवसर प्रदान करने में सहायता देने के लिए ग्रुप के विजनस लीडर्स को बुलाया जाएगा।

इस प्रशिक्षण में व्यवसाय प्रबंधन, ग्राहक केंद्रित रणनीति के प्रोत्साहन और श्रमिक प्रबंधन के बेहतरीन अभ्यास के साथ-साथ पर्यावरणीय स्थिरता के विभिन्न पहलुओं को शामिल किया जाएगा। इसमें महिला उद्यमियों सहित सभी उद्यमियों के सशक्तीकरण पर ध्यान दिया जाएगा, ताकि लंबे समय तक विकास होता रहे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

आस्ट्रेलिया ओपन : नडाल और किर्गियोस जीते, प्रदूषित बारिश से कोर्ट पर कीचड़ फैला

मेलबर्न : रफेल नडाल और निक किर्गियोस ने अपने अपने मुकाबलों में जीत के साथ गुरुवार को यहां आस्ट्रेलिया ओपन के पुरुष एकल के तीसरे आगे पढ़ें »

टी20 : पहली बार कीवी टीम के खिलाफ सीरीज जीतने उतरेगी टीम इंडिया

आकलैंड : टी20 विश्व कप की तैयारी के लिये अहम मानी जा रही पांच मैचों की सीरीज के पहले मैच में शुक्रवार को आत्मविश्वास से आगे पढ़ें »

अजहर के खिलाफ 21 लाख की धोखाधड़ी का मामला, अजहर ने कहा- आरोप बेबुनियाद

नीतीश ने पवन वर्मा को दिया झटका, कहा- जो दल पसंद हो वहां जा सकते हैं, मेरी शुभकामनाएं

मिलावट के बावजूद भारतीय बाजारों में बिकने वाले दूध स्वास्‍थ्य के लिए फायदेमंद

netaji

नेताजी ने हिंदू महासभा की विभाजनकारी राजनीति का विरोध किया था : ममता

ऑस्ट्रेलिया जंगल में फिर बढ़ी आग की लपटें, अभियान में जुटे विमान दुर्घटना में 3 अमेरिकियों की मौत

ईयरफोन के अधिक इश्तेमाल से हो सकती है कई बीमारियां, पढ़ें

मुसलमान विश्व में किसी अन्य स्थान से अधिक सुरक्षित हैं भारत मेंः गोयल

व्यापारिक तनाव कम करने के लिए मलेशिया भारत से खरीदेगा चीनी

ऊपर