दो और कंपनियां करेंगी जियो में निवेश, अप्रैल से अब तक निवेश से जुटाए, 1.04 लाख करोड़ रुपये

प्रियंका तिवारी, नई दिल्ली

एक तरफ कोरोना के कारण काम काज की रफ्तार धीमी है, तो वहीं रिलायंस के जियो प्लैटफॉर्म में लगातार निवेश हो रहा है। अब दो और कंपनियां जियो में निवेश कर रही हैं। रिलायन्स ने शनिवार को जानकारी दी है कि ग्लोबल अल्टरनेटिव एसेट फर्म टीपीजी जियो में 4,546.80 करोड़ रुपये निवेश करेगी, इस निवेश से टीपीजी जियो में 0.93 फीसद हिस्सेदारी खरीदेगी।

टीपीजी एक प्रमुख ग्लोबल अल्टरनेटिव एसेट फर्म है, जिसमें निजी इक्विटी, ग्रोथ इक्विटी, रियल एस्टेट और पब्लिक इक्विटी शामिल हैं। 1992 में स्थापना के बाद टीपीजी ने दुनिया भर में सैकड़ों पोर्टफोलियो कंपनियों का एक विस्तृत नेटवर्क बनाया है। टीपीजी ने एयरबीएनबी, उबर और स्पॉटिफाई शामिल हैं।

वहीँ शनिवार को प्राइवेट इक्विटी फर्म एल कैटरटॉन ने भी जियो में 1,894.50 करोड़ रुपये निवेश की घोषणा की है। इस रकम से कंपनी जियो प्लैटफॉर्म में 0.39 फीसद हिस्सेदारी खरीदेगी।

आरआईएल के अध्यक्ष मुकेश अंबानी ने इस बारे में कहा कि टीजीपी और एल कैटरटॉन के निवेश के साथ जियो 22 अप्रैल,2020 से लेकर अब तक कुल 1,04,326.95 करोड़ रुपये जुटा चुकी है। जियो ने यह निवेश प्रमुख टेक्नोलॉजी इन्वेस्टर्स से जुटाया है, जिसमें फेसबुक, सिल्वर लेक, विस्टा इक्विटी पार्टनर्स, जनरल अटलांटिक, केकेआर, मुबादला, एडीएआई, टीपीजी और एल कैटरटॉन शामिल हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

इन तीन दिन गलती से भी बाल-नाखून न काटें

कोलकाताः हिन्दू धर्म में ऐसे हजारों नियम हैं जिसका वैज्ञानिक कारण है। या आप चाहे तो इन बातों को धर्म से जोड़कर न देखें। परंपराएं सैकड़ों-हजारों आगे पढ़ें »

इंस्टेंट ब्लड शुगर कंट्रोल करने के लिए रोजाना पिएं संतरे के छिलके की चाय

कोलकाताः दुनियाभर में पानी के बाद  चाय सबसे अधिक दिया जाने वाला पॉपुलर पेय है। भारत में इसकी खपत सबसे अधिक है। यहां लोगों के आगे पढ़ें »

ऊपर