देशभर में आवश्यक सामानों की आपूर्ति श्रृंखला को कायम रखेगा ब्लू-डार्ट

नई दिल्ली :  कोविड-19 महामारी के बाद हुए लॉकडाउन  में  ब्लू-डार्ट ने अपनी व्यावसायिक आकस्मिकता एवं निरंतरता योजना (बीसीसीपी) को अमल में लाना शुरू कर दिया है, जिसमें महामारी के दौरान कारोबार के संचालन से संबंधित योजनाएं भी शामिल हैं और भारतीय कारोबार से जुड़ी अपनी सेवाओं में न्यूनतम व्यवधान सुनिश्चित करने के लिए उचित निवारक कदम उठाए जा रहे हैं। क्यूआरटी – यानी कि क्विक रिस्पांस टीम पूरे देश में आपूर्ति श्रृंखला की निरंतरता सुनिश्चित करने के साथ-साथ संभावित प्रभावों को कम करने के लिए ब्लू-डार्ट दिन-रात चौबीसों घंटे काम कर रही है। छह 757 बोइंग फ्रेटर्स भारतीय आसमान में दिन-रात काम कर रहे हैं तथा यहां भी दूसरे शिपमेंट्स की तुलना में चिकित्सा उपकरणों एवं दवाइयों को एक जगह से दूसरी जगह तक पहुंचाने को प्राथमिकता दी जा रही है, ताकि देश को कोविड-19 महामारी के खिलाफ इस संघर्ष में सक्षम बनाया जा सके।

पूरे देश में लागू 21 दिनों के लॉकडाउन के दौरान हर प्रदेश में अपने कामकाज के संचालन के लिए ब्लू-डार्ट एहतियाती उपायों और जारी किए गए दिशा-निर्देशों के बारे में अपने ग्राहकों तथा कर्मचारियों को महत्वपूर्ण अपडेट एवं आवश्यक जानकारी प्रदान कर रहे हैं। इस मौके पर ब्लू-डार्ट एक्सप्रेस लिमिटेड के प्रबंध निदेशक, बाल्फोर मैनुअल ने कहा कि स्वास्थ्य से जुड़े इस गंभीर संकट की स्थिति में हमारी एक्सप्रेस लॉजिस्टिक सेवाएं लोगों की ज़िंदगी बचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है– जिसमें स्वास्थ्य कर्मियों को आपातकालीन चिकित्सा उपकरण एवं अन्य सामग्रियों की आपूर्ति और ग्राहकों को आवश्यक सामान पहुंचाने से लेकर कंपनियों को अपने कामकाज को जारी रखने के लिए समाधान उपलब्ध कराने जैसी विभिन्न सेवाएं शामिल हैं। इस मोर्चे पर हम सरकारी निकायों और संस्थानों के साथ मिलकर काम कर रहे हैं।

क्यूआरटी टीम मौजूदा परिस्थितियों से निपटने के लिए असाधारण काम कर रही है तथा जिन उद्योगों के साथ हम काम कर रहे हैं, उन्होंने सूचना मिलने के बाद बेहद कम समय में ब्लू-डार्ट की प्रतिक्रिया की सराहना की है। हम निर्धारित समय-सीमा में वस्तुओं की आपूर्ति के लिए चौबीसों घंटे काम कर रहे हैं, ताकि महामारी के खिलाफ लड़ाई में सहायता प्रदान की जा सके और संघर्ष को कई गुना बढ़ाया जा सके। हमारे एयरक्राफ्ट हमेशा तैनात हैं। आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति में बाधा नहीं पहुंचे इसके लिए ब्लू-डार्ट ने दो नए हवाई मार्गों, यानी कि गुवाहाटी और पुणे के मार्गों पर भी सेवाओं का संचालन किया है, जो सामान्य शिड्यूल का हिस्सा नहीं हैं। मांग की अनिवार्यता को देखते हुए हवाई सेवाओं का संचालन किया जा रहा है। ब्लू-डार्ट आवश्यक वस्तुओं में सरकार को सहायता प्रदान करने के लिए इंटरनेशनल चार्टर के संचालन पर भी विचार कर रही है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

बड़ी कामयाबी : होम्योपैथी दवा के हमले से ढेर हुआ कोराेना, 42 संक्रमित मरीज हुए स्वस्थ

नयी दिल्ली: देशभर में कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए कई तरह के उपाय किये जा रहे है। इस बीच जयपुर से बड़ी कामयाबी आगे पढ़ें »

इंसानियत हुई तार-तार : गर्भवती हथिनी के बाद अब गर्भवती गाय को खिलाया विस्फोटक, देशभर में मचा बवाल

नयी दिल्ली : देश में एक तरफ प्रकृति से खिलवाड़ की वजह से आए दिन जहां भूकंप, तूफान और कोरोना वायरस संक्रमण की मार आम आगे पढ़ें »

ऊपर