दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था अगले साल आ सकती है मंदी की चपेट में : सर्वे

नई दिल्ली : अमेरिका में अगले साल यानी 2020 या 2021 तक बड़ी मंदी आ सकती है। आर्थिक विशेषज्ञों के बीच एक सर्वे हुआ था, जिसमें यह बात सामने आई है कि दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था जल्द ही मंदी की चपेट में होगी।

वहीं इस बारे में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनॉल्ड ट्रंप ने कहा है कि मंदी से कोई समस्या नहीं है। डोनॉल्ड ट्रंप ने रविवार को संवाददाताओं से कहा कि मुझे नहीं लगता कि हमें मंदी से जूझना पड़ेगा और ऐसा हुआ तो हम इसके लिए तैयार हैं। हमारी अर्थव्यवस्था का हाल सही है, हमारे उपभोक्ताओ के पास पैसा है। टैक्स में जबरदस्त छूट दी है, उनके पास खूब पैसा है और वे खरीदारी कर रहे हैं। वॉलमार्ट के आंकड़े देखें तो, वहां आमदनी हो रही है।

वहीं अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व ने भी संकेत दिया है कि वे आने वाले समय में अर्थव्यवस्था की स्थिति को लेकर चिंता में है। इस मंदी के संबंध में एनएबीई के अध्यक्ष और केपीएमजी के मुख्य अर्थशास्त्री कांस्टैंस हंटर ने कहा कि मौद्रिक नीति में बदलाव से अर्थव्यवस्था में विस्तार का दौर कुछ और समय तक चल सकता है। हंटर ने कहा कि मंदी 2020 में आएगी या 2021 में इसके बारे में विशेषज्ञों की राय अलग-अलग है।

इस सर्वे में 38 फीसदी आर्थिक विशेषज्ञों का कहना था कि अमेरिका अगले साल मंदी में पड़ सकता है, जबकि 34 फीसदी विशेषज्ञों ने कहा कि इससे अगले साल यानी 2021 से पहले मंदी नहीं आएगी। इन अर्थशास्त्रियों को आने वाले समय में चीन और अमेरिका के बीच कोई भी व्यापार समझौता होने को लेकर भी बड़ा संदेह है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

वैश्विक अर्थव्यवस्था के फिर खुलने की उम्मीदों के बीच सोने की कीमतों में आंशिक गिरावट

नई दिल्ली : दुनियाभर के देशों की मुख्य चिंता यह है कि नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करते हुए लॉकडाउन के उपायों को कैसे शिथिल किया आगे पढ़ें »

  स्कॉडा ने 24.99 लाख रुपये  में करॉक्यू लॉन्च किया

नई दिल्ली : स्कॉडा ऑटो ने पांच सीटों वाले करॉक्यू को 24.99 लाख रुपये की एक्स-शोरूम क़ीमत पर लॉन्च किया है। यह लक्जरी कार के आगे पढ़ें »

…तो इसलिए अब कोलकाता के हवाई अड्डे पर ही रहेंगे कोरोना के लक्षण पाए जाने वाले यात्री

बिहार में सब्जी बेचने वाले का बेटा हिमांशु राज बना स्टेट का टॉपर

‘अम्फान’ से सबक लेकर आधारभूत संरचना को बेहतर करें, आपदा से निपटने पर ध्यान दें : एनडीआरएफ प्रमुख

रियल एस्टेट सेक्टर को बड़े पैकेज की जरूरत, पीएम को पत्र लिखकर रखी मांगें

होम्योपैथी दवा से कोरोना संक्रमण से संक्रमित चार मरीज हुए ठीक

लॉकडाउन से हुए बेरोजगार मजदूरों, इलेक्ट्रिशियनों को रोजगार दे रहा चक्रवात अम्फान

चक्रवात ‘अम्फान’ : कोलकाता के कुछ हिस्सों में परेशानी बरकरार

कोरोना योद्धाओं को बांटी प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने की होम्योपैथिक दवाएं

ऊपर