जेट के बंद होने पर 20,000 कर्मचारी हो जाएंगे बेरोजगार

नई दिल्ली : घाटे में चल रही जेट एयरवेज के बंद होने की नौबत आ गई है, जिसके कारण कर्मचारियों के सामने बेरोजगार होने की नौबत आ गई है. कर्जदाताओं की तरफ से कंपनी को अंतरिम वित्तीय राहत नहीं मिली है. कंपनी के एक इंजीनियर ने बताया कि अपना दैनिक खर्च चलाने के लिए एलआईसी पॉलिसी गिरवी रखकर कर्ज लिया है. वहां के कर्मचारी जेट पर बकाये सैलरी को पाने के लिए श्रम आयुक्त का दरवाजा खटखटाया है.

आपको बता दें कि कंपनी की हालत को देखते हुए जेट के सैंकड़ों पायलटो ने कंपनी छोड़ने का मन बना लिया है. कंपनी के एक कर्मचारी ने कहा कि जेट का शेयर अचानक काफी गिर चुका है. बंबई स्टॉक एक्सचेंज पर मंगलवार दोपहर जेट एयरवेज के शेयर में 12.47 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई और यह 229.05 पर कारोबार था. कंपनी के तकनीकी कर्मचारियों को इंडिगो और गोएयर हाइरिंग समेत ज्यादातर निजी विमानन कंपनियों में नौकरी मिल जाएगी, लेकिन गैर-तकनीकी कर्मचारियों के लिए मुश्किलें खड़ी हो सकती हैं. पायलट और इंजीनियर को वेतन में यह कटौती का सामना 30 से 50 फीसदी तक करनी पड सकती है.

कंपनी के एक कार्यकारियों का कहना है कि हमें एयरलाइन से अपना बकाया मिलने की उम्मीद कम है. भविष्य अंधकारमय नजर आ रहा है. हालाँकि आशा की एक किरण के रूप में हवाई यात्रियों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है, जिससे भविष्य में रोजगार के अवसर पैदा होने की उम्मीद है. नेशनल एविएयर्स गिल्ड (एनएजी) के उपाध्यक्ष कैप्टन असीम वालियानी ने कहा कि सभी रैंक के कर्मचारी वित्तीय संकट का सामना कर रहे हैं. हम वित्तीय संकट में फंस गए हैं, बच्चों की पढ़ाई, ईएमआई और यहां तक कि मेडिक्लेम भी दांव पर है. चार महीनों का वेतन, बोनस और ग्रेज्युटी सब कुछ दांव पर है, मिलने की उम्मीद कम है. 20,000 कर्मचारियों के सामने बेरोजगार होने का संकट है.

शेयर करें

मुख्य समाचार

बढ़त के साथ खुले आज शेयर बाजार, इन शेयरों में दिखी तेजी

नई दिल्ली : आज सप्ताह के पहले दिन शेयर बाजार बढ़त के साथ खुले हैं और शुरुआती कारोबार में भी तेजी दिखी। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज आगे पढ़ें »

इन नए नियमों के साथ आज से खुलेगा ऐतिहासिक न्यू मार्केट

कोलकाता : 2 महीने से अधिक हो चुके आखिरकार आज से ऐतिहासिक न्यू मार्केट खुलने जा रहा है। दुकानदार और खरीदार के दौरान कोरोना का आगे पढ़ें »

ऊपर