जून में 90917 करोड़ रुपये का जीएसटी राजस्व संग्रह

gst

नयी दिल्ली : लॉकडाउन के बाद अनलॉक 1.0 के तहत आर्थिक गतिविधियां शुरू किये जाने से जीएसटी राजस्व संग्रह में बढोतरी होने लगी है और इस वर्ष जून में यह 90917 करोड़ रुपये रहा जो पिछले वर्ष में इसी महीने में संग्रहित 99940 करोड़ रुपये की तुलना में नौ फीसदी कम है।कोरोना वायरस संक्रमण बढ़ने के बाद अप्रैल और मई महीने के लिए जीएसटी राजस्व संग्रह के आधिकारक आंकड़े जारी नहीं किये गये थे। वित्त मंत्रालय ने आज यहां इस संबंध में जारी बयान में कहा कि इस वर्ष अप्रैल में 32294 करोड़ रुपये का जीएसटी राजस्व संग्रहित हुआ था जो अप्रैल 2019 में संग्रहित राजस्व की तुलना में मात्र 28 फीसदी था। इसी तरह से इस वर्ष मई में यह राशि 62009 करोड़ रुपये रही थी जो मई 2019 में संग्रहित राजस्व की तुलना में 62 फीसदी था। लॉकडाउन के दौरान पूरे देश में सिर्फ आवश्यक सेवाओं को ही जारी रखा गया था और विनिर्माण गतिविधियां भी पूरी तरह से बंद थी। पिछले महीने अनलॉक 1.0 के तहत धीरे धीरे आर्थिक गतिविधियां शुरू की जा रही है जिससे जीएसटी राजस्व संग्रह में भी बढोतरी होने लगी है।

सीजीएसटी 18980 करोड़ रुपये, एसजीएसटी 23970 करोड़ रुपये

मंत्रालय ने कहा कि चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में जो राजस्व संग्रह हुआ है वह पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही की तुलना में 59 प्रतिशत है। हालांकि मई महीने के लिए जीएसटी रिटर्न भरने के लिए करदाताओं के पास अभी भी वक्त है। इस वर्ष जून में कुल जीएसटी राजस्व संग्रह 90917 करोड़ रुपये रहा जिसमें सीजीएसटी 18980 करोड़ रुपये, एसजीएसटी 23970 करोड़ रुपये, आईजीएसटी 40302 करोड़ रुपये और अधिभार 7665 करोड़ रुपये रहा। आईजीएसटी में 15209 करोड़ रुपये और अधिभार में 607 करोड़ रुपये आयातित उत्पाद पर संग्रहित कर भी शामिल है।

वर्ष 2019-20 में कोरोना वायरस के कारण राजस्व संग्रह प्रभावित

सरकार ने आईजीएसटी में 13325 करोड़ रुपये सीजीएसटी में और 11117 करोड़ रुपये एसजीएसटी में हस्तातंरित किया है। इस हस्तातंरण के बाद केन्द्र सरकार को सीजीएसटी के लिए 32305 करोड़ रुपये और राज्यों को एसजीएसटी के रूप में 35087 करोड़ रुपये का राजस्व मिला है।बयान में कहा गया है कि वर्ष 2019-20 में कोरोना वायरस के कारण राजस्व संग्रह प्रभावित हुआ है और कोविड महामारी के कारण विभिन्न प्रकार की छूट दिये जाने के कारण भी राजस्व पर असर पड़ा है। हालांकि पिछले तीन महीने में धीरे-धीरे जीएसटी राजस्व संग्रह में सुधार होने लगा है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

12 अगस्‍त को दुनिया की पहली कोरोना वैक्‍सीन होगी पंजीकृत

वायरस टीके के लिए रूस की जल्दबाजी ने पश्चिम में चिंताएं बढायीं मॉस्को : दुनियाभर में जहां कोरोना वायरस के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी हो आगे पढ़ें »

बीसीसीआई का दावा, यूएई में आईपीएल कराने को केंद्र सरकार की हरी झंडी

नयी दिल्ली : भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) को इस साल इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में कराने की मंजूरी मिल गयी है आगे पढ़ें »

ऊपर