जीएसटी रिटर्न करने की समयसीमा बढ़ी, अब इस तारीख तक भरना होगा रिटर्न

नई दिल्ली : जीएसटी को लेकर कारोबारियों को राहत मिला है। वे कारोबारी, जिनका टर्नओवर 2 करोड़ रुपये सालाना से अधिक है, उन्हें राहत देते हुए अब वित्त वर्ष 2017-18 के लिए जीएसटी रिटर्न की तारीख बढ़ा दी गई है।

अब टैक्सपेयर्स 30 नवंबर, 2019 तक जीएसटी रिटर्न फाइल कर सकेंगे। केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर और सीमा शुल्क बोर्ड ने एक ट्वीट में जानकारी देते हुए कहा कि अब इसके तहत जीएसटीआर-9, जीएसटीआर -9 ए और जीएसटीआर-9 सी फॉर्म भरने वाले टैक्सपेयर्स या कारोबारियों को बड़ी राहत मिलेगी।

दरअसल जीएसटी रिटर्न की तारीख को बढ़ाने का फैसला तकनीकी दिक्कतों की वजह से लिया गया है। पहले वित्त वर्ष 2017-18 के लिए जीएसटी रिटर्न दाखिल करने की आखिरी तारीख 31 अगस्त 2019 थी। जीएसटी यानी वस्तु एवं सेवा कर के दायरे में रजिस्टर्ड सभी कारोबारियों को जीएसटीआर-9 फॉर्म के जरिये सालाना रिटर्न भरना होता है। इसमें अलग-अलग टैक्स स्लैब के मुताबिक खरीद-बिक्री की जानकारी देनी होती है।

जिन कारोबारियों का सालभर में टर्नओवर 2 करोड़ रुपये से अधिक होता है, उनको जीएसटीआर -9 सी के जरिये रिटर्न फाइल करना होता है। इसके अलावा कंपोजिशन स्कीम का फायदा लेने वाले कारोबारियों को जीएसटीआर -9ए फॉर्म भरकर फाइल करना होता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

Inflation reaches the sky in Pakistan, people are fascinated by food and grains

आरबीआई के लक्ष्य से ज्यादा हुई महंगाई दर, खाने पीने के सामान हुए महंगे

नई दिल्ली : एक तरफ जहां अर्थव्यवस्था में सुस्ती है तो वहीँ दूसरी तरफ इस साल अक्टूबर में खाने-पीने के सामान की कीमतों में वृद्धि आगे पढ़ें »

नालंदा में ट्रक और ऑटोरिक्शा की टक्कर में छह की मौत, तीन गंभीर

राजीगर : बिहार में नालंदा जिले के गिरियक थाना पुलिस सूत्रों ने बताया कि बुधवार की सुबह एक ऑटोरिक्शा पर सवार लोग नवादा जिले के आगे पढ़ें »

ऊपर