घटेगा वैश्व‌िक एयरलाइनों का मुनाफा

विमानन कंपनियों के वैश्विक संघ आईएटीए ने कहा 

सिडनीः व्यापार युद्ध के खतरों और बढ़ते ईंधन के खर्च की वजह से वैश्व‌िक विमान उद्योग का मुनाफा घटने की आशंका है। हालांक‌ि, ईंधन और अन्य लागतों में इजाफे के बावजूद वैश्विक विमानन उद्योग का सामूहिक शुद्ध लाभ 2018 में लगभग 34 अरब डॉलर रह सकता है, जो इससे पिछले साल की तुलना में कम है। ऐसा विमानन कंपनियों के वैश्विक संघ आईएटीए का मानना है।

कैसी है उम्मीद

अंतरराष्ट्रीय वायु परिवहन संघ (आईएटीए) को उम्मीद है कि इस वर्ष विमानन कंपनियों का समूहिक शुद्ध लाभ 4.1 प्रतिशत शुद्ध मार्जिन के साथ 33.8 अरब डॉलर रह सकता है। पिछले वर्ष इनका लाभ रिकार्ड 38 अरब डॉलर था। आईएटीए की सालाना आम बैठक में संघ के महानिदेशक और सीईओ अलेक्जेंद्र डी जुनियाक ने कहा, ‘लागत में वृद्धि के बावजूद 2018 में मुनाफा अच्छा चल रहा है। विमानन उद्योग की वित्तीय नींव मजबूत हो रही है। मुख्य रूप से ईंधन और श्रमबल की बढ़ती लगात के बावजूद उद्योग ने मजबूत प्रदर्शन किया है। हालांकि लागत मूल्य बढ़ने के कारण दिसंबर 2017 के पूर्वानुमानों को संशोधित कर कम किया गया है। दिसबंर 2017 में संगठन का अनुमान था कि इस वर्ष इस उद्योग का लाभ 38.4 अरब डॉलर रहेगा।

क्या कहते हैं विशेषज्ञ

आईएटीए के मुख्य अर्थशास्त्री ब्रायन पीयर्स का कहना है कि इस वर्ष निवेश की गई पूंजी पर रिटर्न (प्रतिफल) 8.5 प्रतिशत रहने की उम्मीद है, जो कि 2017 के 9 प्रतिशत से कम है। भारत समेत एशिया-प्रशांत क्षेत्र की एयरलाइनों को पिछले वर्ष माल ढुलाई में तेज वृद्धि का लाभ हुआ था क्योंकि यह क्षेत्र ‘दुनिया का विनिर्माण केंद्र’ बन कर उभर रहा है। पिछले वर्ष इस क्षेत्र ने 10.1 अरब डॉलर का लाभ अर्जित किया था। इस वर्ष इस क्षेत्र की एयरलाइन कंपनियों को 8.2 अरब डॉलर का लाभ होने का अनुमान है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

अपराध

दोमुंहा सांप दिखाकर 72 लाख की ठगी, 5 गिरफ्तार

सहारनपुर : उत्तर प्रदेश की सहारनपुर पुलिस ने दोमुंहा सांप की करोड़ों रुपये कीमत बताकर 72 लाख की ठगी करने वाले व्यक्ति को गिरफ्तार कर आगे पढ़ें »

समाज को एकजुट करने में अहम भूमिकाएं निभाएं कार्यकर्ता : मोहन भागवत

गोरखपुर : राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के सर संघचालक मोहन भागवत ने स्वयं सेवकों से समाज को एकजुट करने तथा सामाजिक समरसता बनाये रखने में आगे पढ़ें »

ऊपर