गुजरात के गैस पावर प्लांट बेचेगी कर्ज में डूबी एस्सार पावर!

मुंबई: रुइया ब्रदर्स की एस्सार पावर कर्ज में डूब चुकी है। हालत यह है कि अपने 20369 करोड़ रुपये के ऋण को चुकाने के लिए यह निजी बिजली कंपनी गुजरात के अपने गैस आधारित दो संयंत्रों को बेचने पर विचार कर रही है। एस्सार पावर के मुख्य वित्त अधिकारी आलोक नागपाल ने कहा कि हम अपनी संपत्तियों के मौद्रिकरण के लिए सभी विकल्पों का आकलन कर रहे हैं। हम गुजरात में अपने दो कैप्टिव गैस आधारित संयंत्रों की बिक्री पर विचार कर रहे हैं।
कंपनी के दो कैप्टिव गैस आधारित संयंत्र गुजरात के हजीरा में है। इनकी क्षमता 500 मेगावाट और 515 मेगावाट की है। ईंधन की कमी की वजह से ये संयंत्र फिलहाल बंद हैं।2006 में हजीरा में 500 मेगावाट का भंदर संयंत्र में शुरू हुआ था, जिसने 2008 में पूर्ण वाणिज्यिक परिचालन शुरू किया, लेकिन ईंधन के ऊंचे मूल्य की वजह से 2013 में यह संयंत्र बंद हो गया। दूसरे प्लांट (515 मेगावाट) से पैदा होने वाली बिजली बेचने के लिए एस्सार पावर हजीरा ने एस्सार स्टील तथा गुजरात ऊर्जा विकास निगम के साथ बिजली खरीद करार किया था। इसे अक्टूबर 1997 में चालू किया गया था।
नागपाल ने कहा कि हम इन संयंत्रों की बिक्री पर विचार कर रहे हैं। दोनों ही संयंत्र तैयार हैं और ईंधन आपूर्ति मिलने के बाद इनका परिचालन शुरू किया जा सकता हूै। हम अभी इसका मूल्यांकन कर रहे हैं और इसमें कुछ समय लग सकता है। उन्होंने कहा कि खरीदार के लिए सबसे बड़ा फायदा यह है कि ईंधन मिलने के बाद इसका परिचालन तत्काल शुरू किया जा सकता है।
एस्सार पावर का हाल
रुइया ब्रदर्स की यूनिट एस्सार पावर लिमिटेड सरकारी कंपनी लाइफ इंश्योरेंस कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया से बॉन्ड्स के जरिए ली गई 1000 करोड़ रुपये की उधारी पर पेमेंट्स से चूक गई थी। एस्सार पावर और इंफ्रास्ट्रक्चर ग्रुप लैंको दोनों पावर कंपनियां कर्ज नहीं चुका पा रही हैं। कर्ज में डूबी ज्यादातर कंपनियों का कहना है कि उन्हें प्रोजेक्ट्स शुरू करने में दिक्कत आ रही है। उनके मुताबिक, सरकारी क्लीयरेंस में देरी हो रही है। कई पावर कंपनियों ने जरूरत से ज्यादा कर्ज ले रखा है, जिसे चुकाने में अब उनको मुश्किल हो रही है। बैंक लैंको और जेपी ग्रुप जैसी कंपनियों पर एसेट्स बेचकर लोन चुकाने के लिए दबाव बना रहे हैं।
बाद में प्रवक्ता ने क‌िया खंडन
बाद में कंपनी के एक प्रवक्ता ने कहा कि कंपनी रुकी हुई परियोजनाओं का परिचालन शुरू कर उन्हें लाभ में लाने की योजना पर ध्यान केंद्रित कर रही है। प्रवक्ता ने कहा, ‘‘हमारा ध्यान और प्राथमिकता अपने संयंत्रों को चालू करने और उन्हें लाभदायक स्थिति में पहुंचाने पर है। फिलहाल हमारी अपनी किसी भी संपत्ति को बेचने की कोई योजना नहीं है।’’ इससे पहले कंपनी के वरिष्ठ अधिकारियों ने कहा था कि एस्सार पावर पर कर्ज के बोझ को कम करने के लिए वह अपने कुछ संयंत्रों को बेचने पर विचार कर रही है।

Leave a Comment

अन्य समाचार

भारत की आर्थिक वृद्धि तेज, अगली सरकार को निर्यात पर ध्यान देने की जरूरत : विश्व बैंक

वॉशिंगटन : विश्व बैंक के एक अधिकारी ने भारत द्वारा बाजारों को उदार बनाने के प्रयासों की प्रशंसा की है। उन्होंने जोर देते हुये कहा है कि ‌अगली सरकार को निर्यात आधारित वृद्धि पर ध्यान देने की [Read more...]

जेट एयरवेज के लिए स्टेट बैंक ने बोली मांगी

मुंबई / नयी दिल्ली : वित्तीय संकट से जूझ रही जेट एयरवेज में हिस्सेदारी बेचने के लिए भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने बोली आमंत्रित की है। बीते सप्ताह कर्जदाताओं के समूह ने कहा था [Read more...]

मुख्य समाचार

आरबीआई ने रेपो रेट घटाई, लोन सस्ते होने की उम्मीद

मुंबईः भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने रेपो रेट में 0.25% की कटौती की है। यह 6.25% से घटकर 6% हो गई है। मॉनेटरी पॉलिसी कमेटी (एमपीसी) की बैठक खत्म होने के बाद गुरुवार को ब्याज दरों की घोषणा की गई। [Read more...]

कांग्रेस का पूरा घोषणापत्र हिंदी में पढ़ें

कांग्रेस ने मंगलवार को अपना घोषणापत्र जारी किया जिसमें गरीब परिवारों को 72 हजार रुपये सालाना, 22 लाख सरकारी नौकरियां, महिलाओं को आरक्षण, धारा 370 को न हटने देने और देशद्रोह की धारा हटाने सहित कई वादे किए। यहां क्लिक [Read more...]

ईस्टर के मौके पर श्रीलंका में सिलसिलेवार ‌विस्फोट, 129 की मौत, 400 लोग घायल

साध्वी प्रज्ञा ने कहा- मैंने अयोध्या में ढांचा ध्वस्त किया था, राम मंदिर बनाने से कोई नहीं रोक सकता

भारतीय विदेश सचिव के चीन दौरे से साफ होगा मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करवाने का रास्ता ?

लाखों लोग पासवर्ड के तौर पर कर रहे हैं ‘123456’ का इस्तेमाल

राहुल गांधी को अगले चुनाव में पड़ोसी देश में सीट तलाश करनी होगी : पीयूष गोयल

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर बड़ा हादसा, 7 की मौत 30 घायल

फोर्ब्स ने जारी की अरबपतियों की सूचि, जानिए भारत की रैंकिंग

विकास के राह पर चल रहा है भारत, दुनिया के लिए अपार संभावनाएं: सिन्हा

विंग कमांडर अभिनंदन का कश्मीर से किया गया ट्रांसफर, सुरक्षा के मद्देनजर लिया गया फैसला

मतदान केंद्र पर चुनाव अधिकारी को आया हार्ट अटैक, सीआरपीएफ जवान ने सूझबूझ से बचाई जान

ऊपर