गाड़ियों के कल पुर्जे भारत में बनाना चाहती है हुंडई मोटर्स, सरकार से की यह अपील

नई दिल्ली : दक्षिण कोरिया की प्रमुख कार निर्माता हुंडई इलेक्ट्रिक इंडिया वाहनों (ईवी) के कल-पुर्जे को स्थानीय स्तर पर विनिर्माण करना चाहती है, लेकिन इसके लिए हुंडई ने सरकार से अपील की है कि हाइब्रिड मॉडलों को लेकर भारत सरकार नीतिओं में और स्पष्टता लाए।

एचएमआईएल के प्रबंध निदेशक और सीईओ एस एस किम ने कहा कि हम भारत में विभिन्न विकल्पों को ढूंढ रहे हैं, भारत में एचएमआईएल के साथ हुंडई मोटर कंपनी का खरीद खंड इस पर विचार कर रहा है। उन्होंने कहा कि हुंडई मोटर कंपनी बैटरी के लिए भारतीय आपूर्तिकर्ताओं से संपर्क कर रही है। हुंडई की इस साल सीकेडी (सभी कल-पुर्जे अलग-अलग) प्रारूप के तहत देश में लाकर उन्हें यहीं एसेंबल कर पहली ईवी (इलेक्ट्रिक व्हीकल) पेश करने की योजना है। वाहन को हुंडई के चेन्नई स्थित विनिर्माण संयंत्र में असेंबल किया जाएगा।

आपको बता दें कि सरकार के ईवी कल-पुर्जों की स्थानीय स्तर पर आपूर्ति को लेकर सकारात्मक रुख के कारण सुजुकी मोटर कॉर्प गुजरात के हंसलपुर में ऑटोमोटिव लिथियम ऑयन बैटरी विनिर्माण संयंत्र लगाने की प्रक्रिया में है। इसके अलावा, टाटा मोटर्स और महिंद्रा भी देश में ईवी की दिशा में काम कर रही हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

जम्मू में आतंकवादी हमला एक नागरिक घायल

जम्मू : दक्षिण कश्मीर के कुलगाम इलाके के यारीपोरा बाजार में आतंकवादियों द्वारा पुलिस पार्टी पर हमला करने के बाद एक नागरिक घायल हो गया। आगे पढ़ें »

तब्लीगी से जुड़े 960 विदेशियों के 10 साल तक भारत आने पर लगा प्रतिबंध : सूत्र

नयी दिल्ली : सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार तब्लीगी जमात की गतिविधियों में शामिल 960 विदेशियों के भारत आने पर 10 साल तक सरकार आगे पढ़ें »

ऊपर