खादी आयोग ने शुरू की कुंभकारों को आत्मनिर्भर बनाने की मुहिम

नयी दिल्ली : खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग-केवीआईसी ने देशभर में कुंभकारों को आत्मनिर्भर बनाने की मुहिम शुरू की है जिससे उनकी आमदनी में इजाफा हुआ है और श्रम में कमी आई है। खादी आयोग के अध्यक्ष वी के सक्सेना ने सोमवार को यहां बताया कि कोविड महामारी के कारण कुंभकार परिवारों की आजीविका बुरी तरह से प्रभावित हुई है। बदलती जीवन शैली ने भी उनके व्यवसाय पर बुरा प्रभाव डाला है। स्थिति को देखते हुए खादी आयोग ने देशभर में कुंभ कारों को सशक्त करने की एक मुहिम चलाई है जिसमें उन्हें तकनीक, मशीनें, प्रशिक्षण और वित्तीय सहायता उपलब्ध कराई जा रही है।

17,000 से ज्यादा कुंभकार परिवारों को लाभ

आयोग ने कुंभकारों के बर्तनों और कलाकृतियों को राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय बाजार में पहुंचाने में भी मदद की है। इसके लिए एक पूरी व्यवस्था बनाई गई है। उन्होंने बताया कि राजस्थान, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, महाराष्ट्र, जम्मू और कश्मीर, हरियाणा, पश्चिम बंगाल, असम, गुजरात, तमिलनाडु, ओडिशा, तेलंगाना और बिहार जैसे राज्यों के कई दूरदराज इलाकों में कुंभकार सशक्तिकरण योजना की शुरुआत की गई है। इस कार्यक्रम से राजस्थान के कई जिलों जैसे जयपुर, कोटा, झालावाड़ और श्री गंगानगर सहित एक दर्जन से ज्यादा जिलों को लाभ प्राप्त हुआ है। उन्होंने बताया कि देशभर में 17,000 से ज्यादा कुंभकार परिवारों को योजना का लाभ दिया गया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बंगाल में तीसरे दिन भी कोरोना के 800 से ज्यादा मामले, 25 की हुई मौत

कोलकाता : वेस्ट बंगाल कोविड-19 हेल्थ बुलेटिन के अनुसार पश्चिम बंगाल में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 850 नये मामले आये है आगे पढ़ें »

कोरोना की वजह से 9वीं-12वीं के पाठ्यक्रम 30 फीसदी घटे

नयी दिल्ली : कोविड-19 के बढ़ते मामलों के बीच स्कूलों के ना खुल पाने के कारण शिक्षा व्यवस्था पर असर और कक्षाओं के समय में आगे पढ़ें »

ऊपर