कौशल विकास को बढ़ावा देने के लिए बेटरयू ने की साझेदारी

नई दिल्ली : राष्ट्रीय कौशल विकास निगम (एनएसडीसी) ने शिक्षा-से-रोजगार के एक वैश्विक मंच बेटरयू के साथगठबंधन किया है, जो कनाडा के ओटावा में स्थित है। इस साझेदारी के माध्यम से एनएसडीसी और बेटरयू साथ मिलकर भारतीय युवाओं को बेहद किफायती दरों पर सीखने के अवसर उपलब्ध कराएगा। विश्वस्तरीय सामग्रियों एवं इनके वितरण के तरीकों को इस प्रक्रिया में धीरे-धीरे शामिल करने के लिए परस्पर सहयोग पर आधारित इस मॉडल को डिजाइन किया गया है, ताकि नौसिखिए लोगों (फ्रेशर्स), अनुभवी कर्मचारियों और कॉर्पोरेट्स तथा अन्य सभी लोगों को विभिन्न प्रकार की शिक्षण प्रणालियों की सहायता प्रदान की जा सके।
इस गठबंधन पर टिप्पणी करते हुए डॉ. मनीष कुमार, एमडी एवं सीईओ, एनएसडीसी ने कहा कि एनएसडीसी ने हमेशा ऐसे विकासशील समाधानों पर ध्यान केंद्रित किया है, जो कौशल विकास कार्यक्रमों का मूल्यवर्धन करने के साथ-साथ देश भर में व्यावसायिक प्रशिक्षण को मजबूती प्रदान करते हैं। हम मानते हैं कि भारतीय युवाओं को उच्च गुणवत्तायुक्त शिक्षा प्रदान करने के हमारे सामान्य उद्देश्यों की दिशा में इस साझेदारी की बेहद अहम भूमिका होगी। एनएसडीसी के साथ साझेदारी के बाद बेटरयू, एनएसडीसी के वर्तमान समाधानों एवं प्रौद्योगिकियों को एकीकृत करने के लिए काम करेगा और साथ ही यह मौजूदा प्रणाली को सुदृढ़ बनाने के लिए इसके भागीदारों के साथ भी सहयोग करेगा। बेटरयू के अध्यक्ष व सीईओ, ब्रैड लोईसेले ने कहा कि हमारा मानना है कि शिक्षा ही विकास की बुनियाद है जो आगे चलकर घरेलू आय को बढ़ाती है और अंततः अर्थव्यवस्था में सहयोग देती है।

एनएसडीसी के साथ साझेदारी से हमें बेहद प्रसन्नता हुई है, क्योंकि सभी प्रकार के कौशल को समर्थन देना हमारा संयुक्त लक्ष्य रहा है। साथ ही अगर हमारे पास उपयुक्त सामग्री उपलब्ध नहीं हो तो हमारा व्यवसायिक मॉडल इसकी तलाश करने एवं इसे उपलब्ध कराने में सहायक है। कुल मिलाकर सबसे बड़ी चुनौती यह है कि शिक्षा प्रदान करने वाले अधिकांश लोग खास तरह के छात्रों, विशेष प्रकार की सामग्रियों एवं विशेष प्रकार के लक्षित दर्शकों पर केंद्रित होते हैं। लाखों लोगों की बदलती आवश्यकताओं की पूर्ति व्यक्तिगत शिक्षकों द्वारा नहीं की जा सकती है। हर व्यक्ति को शिक्षा में सहायता उपलब्ध कराना ही बेटरयू का लक्ष्य है।

उच्च गुणवत्तायुक्त ऑनलाइन शिक्षा को विश्व स्तर के अग्रणी शिक्षकों एवं छात्रों के साथ जोड़ने के उद्देश्य से बेटरयू का प्लेटफॉर्म ऐसे संभावित भारतीय शिक्षार्थियों को नौकरियों के लिए तैयार करने के लिए आवश्यक साधन उपलब्ध कराता है। बेटरयू की नेतृत्वकर्ता टीम विश्व स्तर पर शिक्षकों को एक मंच पर लाने के उद्देश्य से पूरी दुनिया का भ्रमण कर रही है। सम्मेलनों में व्याख्यान प्रस्तुत कर रही है तथा इस दिशा में अथक प्रयास कर रही है, जो सामूहिक शिक्षा एवं कौशल विकास का समर्थन करने के लिए आवश्यक है। चर्चा को आगे बढ़ाते हुए लोईसेले ने कहा कि सभी के लिए एक-समान शिक्षा के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए हमें शिक्षा के एक ऐसे मंच की जरूरत है, जहां हम व्यक्तिगत शिक्षार्थियों के साथ-साथ बड़े पैमाने पर युवाओं को समर्थन देने के लिए साथ मिलकर से काम कर सकें। हम मानते हैं कि बेटरयू सही भागीदारों के साथ मिलकर सभी उद्योगों में विकास को गति दे सकता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

hongkong

हांगकांग ‘लोकतंत्र अधिनियम’ पारित, चीन ने दी कड़ी प्रतिक्रिया

वाशिंगटन : हांगकांग में लोकतंत्र समर्थक प्रदर्शनकारियों की मांग वाले एक विधेयक को अमेरिकी प्रतिनिधि सभा ने मंगलवार को पारित कर दिया, जिसका उद्देश्य उस आगे पढ़ें »

रतन टाटा खुद को मानते हैं ‘एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक’, कई बड़ी कंपनियों में है हिस्सेदारी

नई दिल्ली : उद्योगपति और टाटा समूह के चेयरमैन रतन टाटा ने खुद को 'एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक' माना है। उन्होंने दर्जनभर से ज्यादा स्टार्टअप कंपनियों आगे पढ़ें »

court

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने 40 दिन की सुनवाई के बाद फैसला सुरक्षित रखा

ayodhya

अयोध्या मामला : मुस्लिम धर्मगुरुओं ने कहा, शीर्ष न्यायालय के फैसले को स्वीकार किया जाना चाहिए

अमेरिकी प्रतिबंधों के पालन के लिए भारत अपना नुकसान नहीं करेगा: वित्त मंत्री

russia

तुर्की और सीरिया की लड़ाई में रूस बना दीवार, तैनात की अपनी आर्मी

sitaraman

अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद ‘मानवाधिकार’ विश्व स्तर पर ज्वलंत शब्द बन गया : सीतारमण

chetak

बजाज ने पेश किया इलेक्ट्रिक चेतक स्कूटर, सामने आया पहला लुक

rail

रेलवे ने शुरू की नई योजना, अब फिल्म प्रमोशन के लिए हो सकेगी ट्रेनों की बुकिंग

modi

पीएम मोदी बोले- राष्ट्र निर्माण का आधार है सावरकर के संस्कार

ऊपर