कोलकाता बंदरगाह की माल ढुलाई 12.45 प्रत‌िशत बढ़ी

नयी दिल्लीः कोलकाता व हल्द‌िया समेत देश के आठ बंदरगाहों में अप्रैल-दिसंबर 2017 में माल ढुलाई में वृद्धि दर्ज की गयी है। कोलकाता बंदरगाह के माल ढुलाई में 12.45 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। इधर, देश के शीर्ष 12 बंदरगाहों पर पिछले साल अप्रैल से दिसंबर के दौरान माल ढुलाई में 3.64 प्रतिशत बढ़ कर 49.94 करोड़ टन हो गयी। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार  कोलकाता व हल्दिया, पारादीप, विशाखापत्तनम, चेन्नई, कोच्चि, न्यू मंगलुरू, जेएनपीटी और कांडला में इस दौरान माल ढुलाई बढ़ी है।

वृद्धि की स्थित‌ि

सर्वाधिक कोच्चि बंदरगाह में 17.27 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की है। इसके बाद पारादीप बंदरगाह ने 14.59 प्रतिशत, कोलकाता बंदरगाह ने 12.45 प्रतिशत, न्यू मंगलुरू ने 6.60 प्रतिशत और जेएनपीटी ने 5.94 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की है।  कोच्चि बंदरगाह की तेजी में पेट्रोलियम, तेल व स्नेहक में हुई 24.10 प्रतिशत तथा कंटेनरों की ढुलाई में हुई 10.79 प्रतिशत की वृद्धि का मुख्य योगदान है।

माल ढुलाई की स्थित‌ि

जहाजरानी मंत्रालय ने कहा, देश के प्रमुख बंदरगाहों ने अप्रैल से दिसंबर 2017 के दौरान 49.94 करोड़ टन माल की ढुलाई की है जो वित्त वर्ष 2015-16 की इसी अवधि के 48.18 करोड़ टन की तुलना में 3.64 प्रतिशत अधिक है। आलोच्य अवधि के दौरान कांडला बंदरगाह ने सर्वाधिक 8.11 करोड़ टन माल की ढुलाई की है। इसके बाद पारादीप ने 7.44 करोड़ टन, जेएनपीटी ने 4.89 करोड़ टन, मुंबई ने 4.75 करोड़ टन और विशाखापत्तनम ने 4.65 करोड़ टन माल की ढुलाई की है। इन पांचों बंदरगाहों की प्रमुख 12 बंदरगाहों की कुल ढुलाई में सम्मिलित तौर पर करीब 60 प्रतिशत हिस्सेदारी रही है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

भारतीय टीम मुझ पर निर्भर नहीं, कई खिलाड़ी मुझसे बेहतर : छेत्री

कोलकाता : भारत के लिए रिकार्ड गोल करने वाले सुनील छेत्री पर बांग्लादेश के खिलाफ मंगलवार को होने वाले विश्व कप क्वालीफायर मुकाबले में गोल आगे पढ़ें »

आईसीसी टेस्ट रैंकिंग : स्मिथ के करीब पहुंचे कोहली

कोहली ने 37 अंकों की लम्बी छलांग लगायी, नंबर वन बनने से दो अंक पीछे दुबई : भारतीय कप्तान विराट कोहली ने पुणे में दक्षिण अफ्रीका आगे पढ़ें »

ऊपर